Trending News
prev next

मौसम की मार, किसान बेहाल

बिहार के छपरा, सिवान, भोजपुर, बक्‍सर और यूपी के बलिया, गाजीपुर, मऊ, बनारस, इलाहाबाद, कानपुर में ऑधी सहित तेज बारिश और बिजली की चमक के साथ गडगडाहट भी हुई हैपश्चिमी विक्षोभ की वजह से मानसून की दस्‍तक, अब नया कुछ होगा?

सत्‍यम् लाइव, 2 मई 2020, दिल्‍ली।। इस मौसम में तेज धूप से दिन का तापमान 45-46 डिग्री तक चला जाता था और लू ऐसेे चलती थी कि हवा भी तपती आग बन जाती थी। शाम होते होते ऐसा लगता था कि मानो हिम राहत देने तो आया परन्‍तु बहुत दूर से ही आशीष दे रहा है। परन्‍तु इस वर्ष नोवेल कोरोना के चलतेे मौसम भी अपनी रंगत दिखा रहा है। राजस्‍थान में भी मानसून विभाग चेतावनी देता हुआ कह रहा है कि जून के अन्‍त में ही मानसून दस्‍तक देने जा रहा है जब कि उत्‍तर प्रदेश में 7 मई 2020 तक पहुॅच जायेगा। इसकी वजह से 40 डिग्री से अधिक ताप होने पर भी आर्द्रता में कमी नहीं आने देगा। मौसम विशेषज्ञ का कहना है कि तापमान अप्रैल के मध्‍य तक जो छत्‍तीसगढ से झारखण्‍ड और बिहार तक पहुॅच गया है। वो मई के प्रथम सप्‍ताह में उत्‍तर प्रदेश पहुॅच जायेगा और ऐसा तब सच हो गया जब 30 अप्रैल की रात्रि में कानपुर से सूचना मिली कि बारिश ऑधी के साथ तेज बिजली कडक रही है हलॉकि अभी तक कोई नुकसान होने की खबर नहीं आयी है। इससे पता चलता है पश्चिमी विक्षोभ जो सक्रिय हुआ है। इसके कारण इस बार पूरी फसल तक चौपट हो गयी है। पश्चिमी विक्षोभ के कारण नमी बनी रहने वाली हैं ये बात मौसम विभाग के बताने के अनुसार कही जा रही है, पश्चिमी विक्षोभ केे कारण कुछ शहरों का तापमान में 20 डिग्री का फर्क देखा गया है आप कहेगें इससे क्‍या फर्क पडता है तो इससे अर्द्रता का बढता घटता खेल अब एक नया समीकरण मनुष्‍य केे शरीर में पैदा करेगा। इधर अब तक मौसम अपना असर दिखा चुका है वो है बिहार के छपरा, सिवान, भोजपुर, बक्‍सर और यूपी के बलिया, गाजीपुर, मऊ, बनारस, इलाहाबाद, कानपुर में ऑधी सहित तेज बारिश और बिजली की चमक के साथ गडगडाहट भी हुई है, इस ऑधी बारिश से किसानों की बची उम्‍मीदें भी अब पूरी तरह से समाप्‍त होते हुए नजर आ रही हैं।

झारखण्‍ड में व्रजपात

मौसम विभाग की चेतावनी

मौसम विभाग का कथन है कि पश्चिमी विक्षोभ पूर्वी उत्‍तर भारत आ चुका है जिसकी वजह से बिहार, झारखण्‍ड का मौसम करवट ले चुका है अब उत्‍तर प्रदेश में प्रवेश करने जा रहा है शुक्रवार को आंधी के साथ बारिश होने की मौसम विभाग ने पहले ही  पूरे प्रदेश में तेज आंधी और गरज-चमक के साथ बारिश होने की चेतावनी जारी की थी। मौसम में यह नया बदलाव एक नए पश्चिमी विक्षोभ के विकसित होने और इसके आगे बढ़ते हुए देश के उत्तरी राज्यों में आने की वजह से हो रहा है। वही, मौसम विभाग ने बिहार के कई जिलों में दो मई तक बारिश और ओलावृष्टि का अनुमान लगाया है। उत्‍तर प्रदेश मेें राजधानी लखनऊ में बीती रात 30 अप्रैल को तेज आंधी-तूफान आया जिसके कारण धूप की जगह मौसम में ठंडा है बरेली में भी देर रात मौसम बिगड़ गया. बरेली के तहसील मीरगंज इलाके में बारिश हवा के साथ ओलावृष्टि की बात सामने आई है। सीतापुर जिले में तेज आंधी के साथ हुई बारिश से किसानों की फसलों को खासा नुक्सान हुआ। वहीं कानपुर में भी तेज आंधी के साथ बारिश हुई है। इन पूरे ही क्षेत्रों से बिजली कडकने की खबर आयी है। आपको बता दें कि मौसम विभाग की तरफ से पहले ही मौसम बिगड़ने की चेतावनी दे दी गई थी। मौसम विभाग की चेतावनी सूचना में 7 और 8 मई तक यूपी के अधिकांश जिलों में मौसम बिगड़े रहने के आसार बताए गए हैं। कई जिलो में भारी बारिश, आंधी-तुफान के साथ ही ओले गिरने की संभावना है।

उपसम्‍पादक सुनील शुक्‍ल

विज्ञापन

अन्य ख़बरे

Be the first to comment

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.