Trending News
prev next

साप्ताहिक बाजार, बार और मेट्रो चलाने का निर्णय वापस लेेंं- आसिफ

कोरोना के फैलाव के मद्देनजर सरकार साप्ताहिक हॉट, शराब -बार और मेट्रो रेल चलाने का निर्णय वापस लेे – आसिफ

सत्‍यम् लाइव, 5 सितम्‍बर 2020, दिल्‍ली।। आल इंडिया माइनोरिटी फ्रंट के अध्यक्ष एस एम आसिफ ने कहा है कि जिस भयावह तरीके से कोरोना महामारी दिल्ली और पूरे देश में अपने पांव पसार रही है उसे देखते हुए सरकार को साप्ताहिक बाजार, शराब के बार खोलने और मेट्रो रेल चलाने के लिए गए निर्णय को अविलम्ब रोक देना चाहिए। उन्होंने कहा कि अगर ऐसा नहीं किया गया तो कोविड-19 का संक्रमण देश और राजधानी के शेष हिस्सों में भी पहुुॅुच जाएगा और देश में इससे होने वाली मौतों की संख्या बेतहाशा बढ़ेंगी जिसे बाद में रोक पाना असंभव हो जाएगा। यहां नई दिल्ली से  जारी बयान में जनाब आसिफ ने कहा है कि अर्थव्यवस्था सुधार के नाम पर सारे व्यापार और कामकाज खोलने से देश का भला नहीं होगा। हमारे लिए लोगों की जान बचाना संक्रमण को रोकना पहली प्राथमिकता होनी चाहिए।  उन्होने कहा कि भूरथल के एक मशहूर ढाबे में 71 लोग कोरोना संक्रमित मिलने से अन्दाज लगाया जा सकता है कि यह संक्रमण कितनी दूर तक पहुुॅुचा होगा। केन्द्रीय स्वास्थ्य विभाग की एम रिपार्ट के अनुसार अब कोरोना-19 गांवों में फैलने लगा है। ऐसी स्थिति में रामलीला मंचन की मांग को स्वीकार करना समाज के हित में नहीं होगा। शराब पिये हुए व्यक्ति का सरकार गाड़ी चलाने पर चालान करती है। वहीं वह शराब के बार खोलने की अनुमति दे रही है। शराब पिए लोग अपने घर जाएंगे , मेट्रो रेल में सफर करेंगे, ऐसी स्थिति में यह महामारी कितनी दूर तक जाएगी सहज अन्दाजा लगाया जा सकता है। माइनोरिटी फ्रन्ट के नेता ने कहा है कि सरकार को चेतना चाहिए कि कोरोना संक्रमण अतिसुरक्षित साधन सम्पन्न वी वी आई पी आवासों व परिसरों के अवरोधों को जब तोड़ कर कोविड-19 अपना विस्तार कर रहा है तो कैसे मान लिया जाए कि कोरोना प्रोटोकोल का पालन करने के बावजूद गांव-देहात, शराब खाने, मेट्रो रेल और हॉट बाजार कैसे सुरक्षित रह पाएंगे। उन्होंने कहा कि सरकार को इस महामारी से निपटने के लिए सरकार को अपनी योजना व रणनीति बदलनी चाहिए।  ऐसा करने से ही देश और दिल्ली सुरक्षित रह सकेगी। आसिफ ने बताया है कि भारत में कोरोनावायरस का कहर किसी भी तरह से कम होता नहीं दिख रहा है। हर रोज दर्ज होने वाले मामलों का आंकड़ा बढ़ता ही जा रहा है।  पिछले दो दिनों से 80,000 से भी ऊपर चल रहा है। शुक्रवार यानी 4 सितंबर को कोविड-19 मामले देश में 39 लाख के पार जा चुके हैं। पिछले 24 घंटे में देश में 83,341 नए कोरोना वायरस केस सामने आए हैं, इसके साथ ही कुल कोरोना मामलों का आंकड़ा 39,36,747 हो चुका है। वहीं, एक दिन में 1,096 मरीजों की मौत हो गई है। अब तक इस वायरस से देश में 68,472 लोगों की मौत हो चुकी है। फिलहाल कोरोना का डेथ रेट 1.73 ‘ चल रहा है। पॉजिटिविटी रेट 7.12’ चल रहा है, यानी कि जितनी भी टेस्टिंग हो रही है, उनमें से 7.12 फीसदी केस पॉजिटिव आ रहे हैं। पिछले 24 घंटों में 11,69,765 टेस्ट हुए हैं। अब तक देश में कुल मिलाकर 4,66,79,145 टेस्ट हो चुके हैं। उन्होने बताया कि  भारत में केस रोग की चपेट में आने वालों की तादाद एक लाख, यानी 1,00,000 तक पहुंचने में 110 दिन का समय लगा था, लेकिन उसके बाद गति बढ़ती चली गई, और अब देश में एक लाख केस सिर्फ एक-दो दिन में जुड़ते जा रहे हैं। भारत को 39 लाख पुष्ट मामलों 218 दिन में आए हैं।

विज्ञापन

अन्य ख़बरे

Be the first to comment

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.