Trending News
prev next

दिल्ली कांग्रेस अध्यक्ष चौ0 अनिल कुमार के नेतृत्व में हजारों कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने मोदी सरकार द्वारा पारित किसान विरोधी तीनों कृषि कानूनों को पूर्णतः वापस लेने की मांग को लेकर भाजपा मुख्यायलय का घेराव किया।

 सत्‍यम् लाइव, 15 दिसम्बर 2020, दिल्ली : दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष चौ0 अनिल कुमार के नेतृत्व में हजारों कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने आज किसान विरोधी तीनों कृषि कानूनों को पूर्णतः रोल-बैक की मांग को लेकर भाजपा मुख्यायलय का घेराव किया। मोदी सरकार  द्वारा पास किए गए किसान विरोधी कानूनों के खिलाफ देश भर के किसान भी दिल्ली की सीमाओं पर 20 दिनों से अपना रोष प्रकट कर रहे है। आक्रोषित कांग्रेस कार्यकर्ताओं में महिलाऐं भी अधिक संख्या में मौजूद थी। कांग्रेस कार्यकर्ता हाथों में मोदी सरकार विरोधी तख्तियां लिए ‘‘अन्नदाता पर अत्याचार, बंद करो मोदी सरकार’’, मोदी की नियत में खोट है, किसान मजदूरों के हितों पर चोट है’’ आदि नारे लगा रहे थे।  चौ0 अनिल कुमार के नेतृत्व में भारी संख्या में कांग्रेस कार्यकर्ताओं को पुलिस ने भाजपा मुख्यालय की ओर जाने से बलपूर्वक रोक दिया।

प्रदर्शनकारियों में प्रदेश अध्यक्ष चौ0 अनिल कुमार के अलावा पूर्व सांसद श्रीमती कृष्णा तीरथ और श्री उदित राज, प्रदेश उपाध्यक्ष श्री जय किशन, श्री अभिषेक दत्त, श्री मुदित अग्रवाल, शिवानी चौपड़ा और श्री अली मेंहदी, प्रदेश महिला कांग्रेस अध्यक्ष अमृता धवन, पूर्व विधायक सर्वश्री राजेश लिलौठिया, चौ0 मतीन अहमद, विजय लोचव, तरविन्दर सिंह मारवाह, अमरीश गौतम, वीर सिंह धींगान, कुंवर करण सिंह, सुरेन्द्र कुमार और भीष्म शर्मा, निगम पार्षद मुकेश गोयल, रिंकू, सुरेश कुमार, गुड्डी देवी, अमरलता सांगवान, सुशीला खोरवाल, दिल्ली छावनी बोर्ड सदस्य नन्द किशोर, जिला अध्यक्ष हरी किशन जिंदल, मौहम्मद उस्मान, मदन खोरवाल, गुरचरण सिंह राजू, राजेश चौहान और विष्णु अग्रवाल, संदीप गोस्वामी, परवेज आलम और पंकज लूथरा सहित महिला कांग्रेस, युवा कांग्रेस, एनएसयूआई और सेवा दल के कार्यकर्ता भी मौजद थे।

चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि यह मोदी सरकार की तानाशाही का ही नतीजा है कि अपना घर छोड़कर देश भर से आए किसान 20 दिनों से दिल्ली की सीमाओं पर अपने अधिकार के लिए संघर्ष कर रहे है, और लगातार बैठकों के दौर चलने बावजूद भी भाजपा की केन्द्र सरकार किसानां की मांगों पर विचार करने की जगह दुष्प्रचार कर रहे है। उन्हांने कहा कि किसान हमारा अन्नदाता है और कांग्रेस पार्टी ने कभी भी किसानों के अधिकारों को नजरअंदाज नही किया है।

चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि कांग्रेस पार्टी किसानों के अधिकारों के लिए तब तक संघर्ष करती रहेगी जब किसान विरोधी तीनों काले कृषि बिलों के पूर्णतः रोल-बैक करके वापस नही लिया जाता और जब तक किसानों की मांगें पूरी तरह नही मान ली जाती तब तक, कितनी भी कठिन स्थिति क्यों न हो, कांग्रेस किसान आंदोलन को समर्थन जारी रखेगी। उन्होंने कहा कि तीनों बिलों का वर्तमान प्रारूप बड़े कॉर्पोरेट्स को कृषि क्षेत्र को संभालने और उत्पाद के मूल्य निर्धारित करने की अनुमति देता है, जो कॉर्पोरेट्स के हित में काम करेगा। चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि तीनों काले कृषि कानूनों से न सिर्फ किसान प्रभावित होंगे बल्कि खेत मजदूर, आड़ती, छोटे व्यापारी और सरकारी मंडियों में काम करने वाले कर्मचारियों, मजदूर वर्ग सहित उपभोक्ता भी प्रभावित होगा।


चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि जब पूरा देश असंवैधानिक तरीके से संसद में पास किए गए किसान विरोधी काले कृषि कानूनों के खिलाफ अपना विरोध जता रहा है तो ऐसे कौनसे कारण है कि मोदी सरकार अपने तानाशाह रवैये के चलते इन कानूनों के तहत कृषि उत्पाद को निजी हाथों में दिए जाने को उतारु है। उन्होंने कहा कि इससे किसानों के हितों को पूर्णतः हनन होगा और किसान बर्बाद हो जाएगा।

ये भी पढ़े: असम: बोडोलैंड परिषद चुनाव में भी भाजपा का अच्छा प्रदर्शन, कांग्रेस-AIUDF गठबंधन की बुरी हार


चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द अपने दोहरे चरित्र के साथ किसानों के हितों के लिए उपवास करने का झूठा नाटक कर रहे है। उन्होंने कहा कि यदि अरविन्द केजरीवाल किसानों के लिए कुछ करना चाहते है तो दिल्ली सरकार द्वारा  23 नवम्बर, 2020 को जारी की गई कृषि कानूनों को दिल्ली में लागू करने संबधी अधिसूचना को वापस लें और तुरंत विधानसभा का सत्र बुलालकर अपना रुख सदन के पटल पर स्पष्ट  करें। चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि किसान विरोधी कृषि कानूनों पर भाजपा और आम आदमी पार्टी कुछ करने की बजाय सिर्फ राजनीति कर रहीं है। उन्होंने कहा कि भाजपा और आप पार्टी एक ही सिक्के के दो पहलू है।

विज्ञापन

अन्य ख़बरे

  • दिल्ली: अनलाॅक-3 में कुछ और मिल सकती है छूट
    सत्यम् लाइव, 12 जून 2021, दिल्ली।। सोमवार से दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल इसका ऐलान करने वाले हैं बता दें किअनलॉक-3 के तहत शनिवार को दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण की बैठक होने वाली है और इसके बाद मुख्यमंत्री […]
  • बिस्मिल, अशफाक और रोशन ने चूमा था फांसी का फंदा
    सत्यम् लाइव, 11 जून, 2021, दिल्ली।। राम प्रसाद ‘बिस्मिल’  11 जून 1897 को उत्तर प्रदेश के शाहजहाँपुर शहर के खिरनीबाग मुहल्ले में जन्मे रामप्रसाद अपने पिता मुरलीधर और माता मूलमती की दूसरी सन्तान थे। […]
  • बारिश से देहरादून में मचा हाहाकार
    सत्यम् लाइव, 10 जून 2021, दिल्ली।। राजधानी देहरादून में प्री-मानसून की पहली बारिश ने ही लोगों को खौफजदा कर दिया है। यहां मालदेवता में बादलों ने अपना रौद्र रूप दिखाया है। बुधवार देर रात राजधानी में मूसलाधार बारिश […]
  • 10.6.21, सूर्य ग्रहण जो भारत के अधिकांश हिस्से में नहीं दिखेगा
    सत्यम् लाइव, 10 जून 2021, दिल्ली।। सत्यम् लाइव, 10 जून 2021, दिल्ली।। 10 जून को ज्येष्ठ अमावस्था पर सूर्य ग्रहण लग रहा है इस सूर्यग्रहण भारत के अधिकांश हिस्सों में नहीं देखा जा सकेगा। आज का यह सूर्य ग्रहण भारतीय […]
  • बिहार प्रशासनिक सेवा में जामिया के 16 छात्रों का चयन
    सत्यम् लाइव, 10 जून 2021, दिल्ली।। बिहार पब्लिक सर्विस कमीशन के द्वारा आयोजित 64वीं प्रशासनिक सेवा परीक्षा का फाइनल परिणाम जारी हो गया है। जामिया मिल्लिया इस्लामिया की आवासीय कोचिंग अकादमी(आरसीए) के प्रभारी मोहम्मद […]
  • यूपी सरकार ने दिये 230 करोड़, 23 लाख श्रमिकों को
    सत्यम् लाइव, 10 जून 2021, दिल्ली।। आज उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी ने कहा कि सरकार हर सुख.दुख में श्रमिकों के साथ खड़ी है अब श्रमिकों की बेटियों की शादी के विवाह का निमंत्रण पत्र डीएम व कमिश्नर बांटते […]
  • दिल्ली में ‘जहां वोट, वहां वैक्सीनेशन’ अभियान की शुरुआत
    सत्यम् लाइव, 9 जून, 2021, दिल्ली।। दिल्ली सरकार की तरफ से एक अभियान की शुरुआत की जा रही है, जिसमें घर-घर जाकर लोगों को वैक्सीन करवाई जायेगी। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने खुद इस अभियान के बारे कहा कि हम […]

Be the first to comment

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.