Trending News
prev next

लुइस ब्रेल जयंती के उपलक्ष में सक्षम जिला यूनिट उधम सिंह नगर में सहायक अनुसंधान प्रमुख सतीश चौहान के नेतृत्व में विशेष कार्यक्रम

सत्‍यम् लाइव, 05 जनवरी 2021, काशीपुर: आज लुई ब्रेल जयंती के शुभ अवसर सक्षम जिला इकाई उधमसिंहनगर द्वारा दिव्यांगजन केंद्र बीआरसी काशीपुर में उप शिक्षा अधिकारी काशीपुर श्रीमती गीतिका पांडे और सम दृष्टि क्षमता विकास एवं अनुसंधान मंडल की जिला अध्यक्ष उधम सिंह नगर एवं अनमोल फाउंडेशन की मुख्य ट्रस्टी श्रीमती मीनाक्षी चौहान ने खुशी पुर्ण दृष्टि बाधित दिव्यांग बच्ची से केक काटकर लुई ब्रेल जयंती मनाई । उप शिक्षा अधिकारी गीतिका जोशी ने कहा की हर दृष्टिहीन मानव पर लुई ब्रेल का उपकार रहेगा । आपने ऐसी लिपि बनाई, हमको नई राह दिखाई अंधियारे जीवन पथ पर, तूने ज्ञान की ज्योत जलाई,। उप शिक्षा अधिकारी काशीपुर ने एक दिव्यांग बच्ची धानी को रोडबेज पास भी दिया । मीनाक्षी चौहान ने कहा कि आपने हाथों को दी है आंखें, अंगुलियों को दी है वाणी, लाचार से तूने बनाया, हम सबको स्वाभिमानी, जब तक यह अमर संसार है, तेरे नाम से हमको प्यार है। इस मौके पर सदस्य राज्य दिव्यांग सलाहकार बोर्ड उत्तराखंड सरकार सतीश कुमार चौहान समस्त दृष्टिहीन परिवार की ओर से लुई ब्रेल जयंती की ढेर सारी शुभकामनाएं दी और उनके जीवन पर प्रकाश डाला ।

लुइ ब्रेल जी और उनके द्वारा लुई ब्रेल 3 वर्ष की उम्र में लोई साहब की एक आंख की दृष्टि दुर्घटना के चलते चली गई, 5 साल की उम्र में वह पूरी तरह आंखों की दृष्टि खो चजहां से दाखिला लेकर लुई ब्रेल जी ने अपनी आरंभिक शिक्षा की शुरुआत की थी. लुई ब्रेल जी ने अपनी आरंभिक शिक्षा की शुरुआत रॉयल इंस्टीट्यूट फॉर द ब्लाइंड यूथ में की थी । दुनिया का दृष्टिबाधित के लिए पहला विद्यालय फ्रांस में खोला और इसके संस्थापक वैलेंटाइन किस ने आदे थे. हेलेन केलर ने जिस विद्यालय से अपनी पढ़ाई की शुरुआत की वह ग्राहम बेल द्वारा स्कॉटलैंड में खोला गया । भारत में दृष्टिबाधितओं के लिए पहला विद्यालय किस शहर में खोला गया. भारत में दृष्टिबाधित के लिए पहला विद्यालय अमृतसर पंजाब में खोला गय। लुई ब्रेल जी के नाम से बना सबसे बड़ा म्यूजियम फ्रांस की राजधानी पेरिस में मौजूद है इस मौके सक्षम जिला महिला प्रमुख शांति भंडारी, ग्लोबल स्कूल के प्रधानाचार्य याशीन जी, खुशी, सुधा,जसकीरत, अंशुल भंडारी , धानी, दीपक ,भानू शाह ,पृथ्वी,आदित्य,गुंजन, यश,जानी आदि दिव्यांग बच्चे ब उनके माता पिता उपस्थित रहे।

संवाददाता – डॉ. मुरली सिंह

विज्ञापन

अन्य ख़बरे

Be the first to comment

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.