Trending News
prev next

अब तक 25 लोगो से पूछताछ, जंगपुरा, लक्ष्मी नगर और नोएडा में हैं कॉल सेंटर

So far, 25 people have been questioned in the inquiries, Jangpura, Lakshmi Nagar and Noida. Call Center

दिल्ली : वोटर लिस्ट से नाम कटने की गलत और भ्रामक सूचना के आरोपों की जांच के सिलसिले में कॉल सेंटर पर पुलिसिया कार्रवाई से शुक्रवार को राजनीतिक जंग उफान पर आ गई। आप नेता चुनाव आयोग कार्यालय पर शाम 4 बजे से धरने पर बैठ गए।

मामले की जांच आयोग के निष्पक्ष अधिकारी से करवाने के फैसले के बाद रात 9.30 बजे आप नेता आयोग से निकले। इस बीच फोन कॉल के संबंध में क्राइम ब्रांच के पास शिकायतें लगातार बढ़ती जा रही हैं। पुलिस के पास शुक्रवार तक 34 शिकायतें आ गई थीं।

दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच की टीम ने शुक्रवार सुबह 10-12 लोगों को बुलाकर पूछताछ की और कॉल सेंटर में भी छापा डालकर तथ्यों की पड़ताल की। पुलिस का दावा है कि जांच जारी है, जो भी तथ्य सामने आएंगे, उसके आधार पर कार्रवाई की जाएगी।

इस मामले में अब तक किसी को गिरफ्तार नहीं किया गया है। हम फोन कॉल करने के कारणों की जांच कर रहे हैं। पुलिस ने बताया कि 3 कॉल सेंटरों से दिल्ली के लोगों को फोन किए जा रहे हैं। ये कॉल सेंटर जगंपुरा, नोएडा व लक्ष्मी नगर में हैं। जांच में ये बात भी सामने आई है कि फोन कॉल्स करने को लेकर इन कॉल सेंटर्स से आम आदमी पार्टी के लेटर हैड पर समझौता किया गया है। अब तक करीब 25 लोगों से पूछताछ हो चुकी है और कुछ लोगों को नोटिस भेजे गए हैं। अभी तक आप से किसी नेता को पूछताछ के लिए नहीं बुलाया गया है।

ये भी पढ़े : दिव्यांग हैं तो एप से चुनाव आयोग को दें सूचना, बीएलओ पहुंचेगा घर

वरिष्ठ अधिकारियों की मानें तो जल्द उन्हें भी पूछताछ के लिए बुलाया जाएगा। कॉल सेंटर के लोगों को परेशान करने का जो आरोप लगाया जा रहा है, वह गलत है। जांच की जानकारी चुनाव आयोग को दे चुके हैं। हमारी टीम के खिलाफ किसी कॉल सेंटर के मालिक ने परेशान करने की शिकायत नहीं की है।

केजरीवाल का ट्वीट- हमारा अपराध क्या है

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट किया कि पुलिस ने बिना तलाशी वारंट के छापे मारे हैं। क्या हो रहा है। अपराध क्या है। उन्होंने कहा कि पुलिस काॅल सेंटर पर पहुंची। केवल सर्वर और हमारे डाटा की जानकारी ली जा रही है। उन्होंने सवाल उठाया कि क्या मुख्य चुनाव आयोग हमारे काल सेंटरों पर छापे मार रहा है और हमारे डाटा के बारे में पूछताछ कर रहा है।

यह है मामला : आप ने आरोप लगाया था कि भाजपा के इशारे पर दिल्ली के 24 लाख मतदाताओं का नाम मतदाता सूची से निकाल दिया गया था। इसके बाद दिल्ली के वोटर्स के पास ऐसी कॉल आना शुरू हुईं जिनमें कहा गया कि सीएम केजरीवाल उनके नाम वोटर लिस्ट में जुड़वा रहे हैं। भाजपा ने इसकी शिकायत आयोग और पुलिस से की। पुलिस ने कॉल सेंटर्स पर छापा डाला तो आप ने इसका विरोध किया।

विज्ञापन

अन्य ख़बरे

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*


seven − four =

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Translate »