Breaking News
prev next

SC/ST आरक्षण के विरोध में भारत बंद: बिहार में धरा 144 लागू

नई दिल्ली: भारत बंद के खिलाफ अाज अारक्षण विरोधियों की तरफ से भारत बंद का अाह्वान किया गया है। देश के कई राज्यों में भारत बंद का असर देखा जा रहा है। कई जगहों पर इस प्रदर्शन ने हिंसा का रुप ले लिया है।

अलर्ट के बावजूद बिहार में गोलीबारी

बिहार में विरोध प्रदर्शन को देखते हुए एहतियात के तौर पर एजेंसियों की तरफ से अलर्ट जारी कर दिया गया था। इसके बावजूद आरा नगर थाना क्षेत्र के आनंदनगर इलाके में बंद समर्थकों और विरोधियों के बीच हिंसक झड़प हो गई। इस दौरान दोनों गुटों की तरफ से पथराव, आगजनी और फायरिंग हुई। पथराव में डीएसपी की गाड़ी क्षतिग्रस्त हो गई है। वहीं हाजीपुर में केंद्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा जाम में फंस गए। बंद समर्थकों ने केंद्रीय मंत्री से बदसलूकी भी की। ये घटना हाजीपुर के शुभाई की है। बिहार के गया जिला में प्रदर्शनकारियों ने पुलिस पर पथराव किया, जिसमें कई पुलिसकर्मी घायल हो गए। जिसके बाद पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा। भीड़ को काबू करने के लिए आंसू गैसे के गोले भी छोड़े गए। दर्जनों लोगों को हिरासत में लिया गया।

इस बीच आरा में बंद समर्थकों ने कतीरा, त्रिभुवनी मोड़ सहित कई जगहों पर सड़क जाम किया। आंदोलनकारियों ने रेल यातायात भी बाधित कर दिया। उन्‍होंने पटना-मुगलसराय रेल खंड पर परिचालन बाधित कर दिया। बेगूसराय में बंद समर्थकों और विरोधियों में मारपीट हुई। मौके पर कवरेज कर रहे मीडियाकर्मियों को भी पीटा गया। नगर थाना क्षेत्र के अंबेडकर चौक पर तनाव तब भड़का, जब एक पक्ष ने दूसरे पर बाबासाहेब भीमराव अंबेडकर की प्रतिमा तोड़ने की कोशिश का आरोप लगाया।

राजस्थान में स्कूल बंद

आरक्षण के विरोध में झलावार में बाजार बंद किया गया। प्रदर्शनकारियों ने एक बाइक रैली आयोजित की।राजस्थान के जयपुर में भी धारा 144 लागू है और आधी रात से इंटरनेट सेवा बंद पर रोक लगा दी गई है। बंद की वजह से ज्यादातर स्कूल नहीं खुलेंगे। वहीं झालावाड़ में बंद को प्रशासन ने भ्रामक बताया है। राज्य के गृहमंत्री गुलाब चंद कटारिया का कहना है कि किसी संगठन ने अधिकारिक रूप से भारत बंद की बात नहीं कही है,लेकिन सोशल मीडिया पर चल रहे मैसेज को देखते हुए कानून-व्यवस्था कायम रखने के पूरे प्रबंध किए गए हैं ।

यूपी में हाई अलर्ट

यूपी के मेरठ जोन के 6 जिलों में हाई अलर्ट है। गाजियाबाद, इलाहाबाद में धारा 144 लागू है तो वहीं सहारनपुर में मोबाइल इंटरनेट सेवा बंद कर दी गई। फिरोजाबाद में पहली से 9वीं कक्षा तक के स्कूल को बंद किया गया है।

हापुड़ में इंटरनेट सेवा पर रोक

यूपी के हापुड़ में सोमवार शाम 6 बजे से मंगलवार शाम 6 बजे तक के लिए इंटरनेट सेवा पर रोक लगा दी गई है। 10 अप्रैल को भारत बंद बुलाए जाने को देखते हुए जिला मजिस्ट्रेट ने यह आदेश जारी किया था।

भोपाल में धारा 144

भोपाल के कमिश्‍नर ने भारत बंद को देखते हुए शहर में धारा 144 को लगाने का आदेश दिया है। हालांकि इस दौरान स्कूल खुले रहे। पुख्ता सुरक्षा के लिए 6 हजार पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया है। पुलिस विभाग सोशल मीडिया पर नजर रखेगा और अफवाहों के खिलाफ तुरंत कार्रवाई की जाएगी।

2 अप्रैल के भारत बंद में 11 लोगों की मौत

बता दें कि इससे पहले दलित संगठनों ने 2 अप्रैल को भारत बंद बुलाया था। दलितों के इस प्रदर्शन ने हिंसा का रूप ले लिया था। इस प्रदर्शन में 11 से लोगों की जान चली गई थी। पिछली बार की तरह इस बार कोई बड़ी घटना ना हो इसलिए केंद्र सरकार ने सुरक्षा व्यवस्था चाक चौबंद करने और हिंसा रोकने के लिए सभी राज्यों के लिए परामर्श जारी किया था। गृह मंत्रालय ने कहा कि अपने इलाकों में होने वाली किसी भी हिंसा के लिए जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक व्यक्तिगत रूप से जिम्मेदार होंगे।

गृहमंत्रालय ने दिए निर्देश

गृहमंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि सोशल मीडिया पर जाति के आधार पर आरक्षण के खिलाफ ओबीसी और जनरल वर्ग के कई संगठनों ने मंगलवार को भारत बंद का आह्वान किया है। सोशल मीडिया पर इसका प्रचार-प्रसार किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि वाट्सएप पर इस मैसेज को खूब शेयर किया जा रहा है और लोगों से भारत बंद का समर्थन करने की अपील की जा रही है।

इसे देखते हुए सभी राज्य सरकारों को सुरक्षा चाक चौबंद करने और हिंसा रोकने के लिए जरूरी कदम उठाने को कहा है। इसके तहत संवेदनशील स्थानों पर गश्त बढ़ाना और बंद के दौरान उत्पात की आशंका वाले जगहों पर पुलिस बल की तैनाती शामिल है। गृहमंत्रालय ने राज्य सरकारों को यह सुनिश्चित करने को कहा है कि इस दौरान किसी तरह की जान-माल का नुकसान नहीं होना चाहिए। यदि किसी क्षेत्र में ऐसा होता है, तो उसके लिए सीधे तौर पर उस इलाके के एसएसपी और डीएम को जिम्मेदार माना जाएगा।

 

विज्ञापन

अन्य ख़बरे

  • कलयुगी गंगाजल है सैनेटाइजर
    अपनी संस्‍कृृ‍ति और सभ्‍यता को पहचानने के लिये पहले भगवान और गंगाजल को गंगा मॉ समझना जरूरी है। सत्‍यम् लाइव, 13 सितम्‍बर 2020, दिल्‍ली।। भारतीय शास्‍त्रों में गंगाजल की महत्‍ता इतनी वयां की गयी है कि मुस्लिम शासक […]
  • किसान ट्रेन से फायदा किसान को होगा?
    सत्‍यम् लाइव, 12 सितम्‍बर 2020, दिल्‍ली।। शुक्रवार सुबह आंध्र प्रदेश के अनंतपुर से चल दिल्‍ली के आदर्श नगर रेलवे स्टेशन पहुंची है इस रेल का नाम किसान रेल है जिस पर 332 टन फल और सब्जियां लाई गईं। 36 घंटों के लम्‍बे […]
  • कृषक मेघ की रानी दिल्‍ली.. दिनकर जी
    सत्‍यम् लाइव, 11 सितम्‍बर 2020, दिल्‍ली।। आपदा को अवसर में तब्‍दील कर देने वाले प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी जी की सरकार और किसानों के बीच एक बार फिर से संघर्ष प्रारम्‍भ हो चुका है। अवसरवादी भारत की सरकारेंं कृषि […]
  • स्‍कूल के नियमों पर जटिल प्रश्‍न
    भययुक्‍त शिक्षक, भयमुक्त समाज नहीं बनाता ”वासुधैव कुटुम्‍बकम्” की भावना समाप्‍त करती आज की शिक्षा व्‍यवस्‍था कलयुगी सैनेटाइजर ने युग के गंगाजल का स्‍थान ले रही है। कारण शिक्षा व्‍यवस्‍था भारतीय संस्‍कार […]
  • स्‍कूल और कॉलेज खोलने का ऐलान
    सत्‍यम् लाइव, 9 सितम्‍बर 2020, दिल्‍ली।। यूपी में लॉकडाउन खत्म करने के बाद अनलॉक-4.0 के तहत अब स्कूल-कॉलेज खोलने की तैयारी है। 21 सितंबर से 9वीं से 12वीं कक्षा के छात्र कुछ शर्तों के साथ स्कूल जा सकेंगे। केंद्र […]
  • नेत्रदान पर जागरूक अभियान
    सत्‍यम् लाइव, 8 सितम्‍बर 2020, दिल्‍ली।। उत्तराखंड प्रांत इकाई के संयुक्त तत्वाधान में नेत्र की क्रिया विधि एवं नेत्रदान का महत्व विषय पर एक राष्ट्रीय वेबीनार का आयोजन किया गया।वेबीनार के मुख्य अतिथि सक्षम के […]