Trending News
prev next

बरसात: वायरस से बचाव का उपाय स्वयं करें

सत्यम् लाइव, 5 सितम्बर 2021, उत्तर प्रदेश।। गोरखपुर निवासी डॉ. एस. के. सिंह से जब गोरखपुर का हाल पूछा तो जीवन का एक अनुठा सच सामने आया। गोरखपुर के कुछ क्षेत्रों में तो पानी लगभग 15 फीट तक भरा हुआ है। लोग छतों पर दिन-रात गुजार रहे हैं। घर पर खाने पीने की सारी व्यवस्था समाप्त हो चुकी हैं जैसे रसोई का सारा सामान आँखों के सामने खराब हो रहा है। अनाज में दाल, चावल, गेंहू सब भीग चुका है। पहनने के लिये कपड़े तक बड़ी मुश्किल से मिल जाते हैं। लेटने बैठने के लिये बिस्तर आदि भी भीगकर खराब हो चुके है। परिवार के सदस्यों को दूर कहीं भेजकर किसी तरह समय काट रहा व्यक्ति बता रहा है कि बिजली है नहीं। घरों में पानी भरा है दिन-रात सिर्फ भय व्याप्त है। उस पर भी आने वाली समय में क्या होगा ? उसकी चिन्ता है क्योंकि दुकानों का समान भी खराब हो चुका है। पूँजि पहले ही नहीं बची है अब कैसे जीवन कटेगा? ये चिन्ता इतनी सता रही है कि अनिश्चित जीवन साफ दिखाई दे रहा है परन्तु कुछ भी हो जीवन तो जीना ही पड़ेगा।

डॉ. एस. के. सिंह के अनुसार गोरखनाथ ग्रीन सिटी, राजेंद्र नगर, नई कॉलोनी जंगल बहादुरपुर अली, ट्रांसपोर्ट नगर की शिवपुर कॉलोनी, शेखपुरवा, बरगदवां, मोहरीपुर, हमीरपुर, रामपुर नयागांव, द्वारिकापुरी, ग्रीन सिटी फेज टू, श्यामनगर, महेसरा, चित्रगुप्त नगर, राजेंद्र नगर पश्चिमी आदि क्षेत्रों में जल भराव है। गोरखपुर में रोहिन नदी, राप्ती नदी से के डोमिनगढ़ क्षेत्र में मिलाप करती है। इस वजह से भी कुछ बाढ़ क्षेत्रों में फैली हुई है। वैसे अभी भी हर्बर्ट बांध, मलौनी और लहसड़ी बांध ने शहर को जल से सुरक्षित किया हुआ है। वैसे लोगों की दुश्वारियां बढ़ती ही जा रही हैं।

Advertisements

बच्चों को दूध नसीब नहीं हो पा रहा है तथा लोगों को दो रोटी के लाले पड़े हुए हैं उस पर भी ये भय व्याप्त है कि जलस्तर बढ गया तब क्या होगा? पानी भरने के साथ ही मच्छर के साथ कई कीटाणु जन्म लेते ही हैं। इसके बाद की महामारी से निपटने को तैयार रहना होगा और ये कार्य शासन और प्रशासन के स्तर पर ही हो सकता है परन्तु कितनी इसकी तैयारी है ये तो वक्त के अनुसार ही ज्ञात हो पायेगा। वशर्ते जहाँ कहीं पर जल भराव हुआ है उन सभी क्षेत्रों में मच्छर के साथ जन्में संक्रमण से वहाँ के निवासी को स्वतः ही निपटना होगा और इसके लिये उसे अपने स्तर पर ही पूर्ण तैयारी करनी होगी।

सुनील शुक्ल

विज्ञापन

अन्य ख़बरे

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*


This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.