Trending News
prev next

महात्मा बुद्ध के अनमोल वचन

सत्यम् लाइव, 26 मई 2021, दिल्ली।। आज भारत समेत श्रीलंका, म्यांमार, कंबोडिया, जावा, इंडोनेशिया, तिब्बत, मंगोलिया में बुद्ध जयंती के दिन खास त्योहार ‘वेसाक’ के रूप में बुद्ध जयंती मनाई जा रही है। गौतम बुद्ध का जन्म 563 ईसा पूर्व में पूर्णिमा के दिन हुआ था अत: 2021 में भगवान गौतम बुद्ध की 2583वीं जयंती मनाई जा रही है। इस दिन बुद्ध पूर्णिमा या वैसाखी बुद्ध पूर्णिमा या वेसाक के नाम से जाना जाता है। गौतम बुद्ध का जन्म लुंबिनी में हुआ था, जो आज नेपाल में पड़ता है। विश्व के प्रसिद्द धर्म सुधारकों और दार्शनिकों में महात्मा बुद्ध अग्रणी हैं। महात्मा बुद्ध के 10 अनमोल वचन दिये-

  • अपने मोक्ष के लिए इंसान को खुद ही प्रयत्न करना चाहिए, दूसरे पर निर्भर नहीं रहना चाहिए।
  • जिसने अपने मन को वश में कर लिया, उसकी जीत को देवता भी हार में नहीं बदल सकते हैं।
  • तुम अपने क्रोध के लिए दंड नहीं पाओगे, तुम अपने क्रोध के द्वारा दंड पाओगे।
  • हम वह हैं, जो हम सोचते हैं। हमारा उदय हमारे विचारों के साथ हुआ है। अपने विचारों के साथ ही हम दुनिया बनाते हैं।
  • मनुष्य जन्म से नहीं बल्कि अपने कर्म से महान माना गया है।
  • क्रोध को पाले रखना, गर्म कोयले को किसी और पर फेंकने की नीयत से पकड़े रहने के समान हैं, इसमें सिर्फ आप ही जलते हैं।
  • स्वास्थ्य सबसे बड़ा उपहार है, संतोष सबसे बड़ा धन है, विश्वास सबसे अच्छा रिश्ता है।
  • अतीत पर ध्यान मत दो, भविष्य की चिंता मत करो, अपने मन को वर्तमान क्षण पर नियंत्रित करो।
  • एक पल एक दिन को बदल सकता है, एक दिन एक जीवन को बदल सकता है, एक जीवन इस पूरी दुनियां को बदल सकता है।
  • जैसे मोमबत्ती बिना आग के नहीं जल सकती, ठीक वैसे ही मनुष्य भी आध्यात्मिक जीवन के बिना नहीं जी सकता है।

सुनील शुक्ल

विज्ञापन

अन्य ख़बरे

Be the first to comment

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.