Trending News
prev next

यात्रीगण कृपया ध्‍यान दें, प्‍लेटफार्म नहीं, स्‍टेशन बदल सकता है

सत्‍यम् लाइव, 25 मई 2020, दिल्‍ली।। श्रमिक स्‍पेशल ट्रेन को लेकर आज फिर वही समस्‍या सामने आयी, कि रेल अपने मार्ग को छोडकर दूसरे स्‍टेशन की तरफ दौडकर पहुॅच गयी और वो भी 16 घंटे लेट। ऐसी घटना रविवार को घटी जब तमिलनाडु से धनवाद के लिये रवाना हुई श्रमिक स्‍पेशल ट्रेन-06142 अपने मार्ग से भटक कर हटिया के बजाय चक्रधरपुर के रास्‍ते चल पडी और रविवार की सुबह ट्रेन राउरकेला रेलवे स्‍टेशन पर पहुॅच गयी जबकि उसे हटिया सुबह 8.30 बजे पहुॅॅॅॅॅचना था। स्‍टेशन पर यात्री ने हंगामा कर दिया तब जाकर रेल डिवीजन ने उसका इंजन दूसरी दिशा पर लगाकर उसे सही मार्ग पर ले जाने का निर्णय लिया। तब हटिया के लिये रवाना की गयी। दोपहर 2.15 मिनट पर रेल हटिया स्‍टेशन पर पहुॅॅॅच गयी। ऐसी लचर व्‍यवस्‍‍‍‍‍था लगातार श्रमिक यात्रियों के साथ हो रही है। सारे ही यात्रियों का कहना है कि बीच में किसी भी प्रकार के भोजन पानी की व्‍यवस्‍था नहीं की गयी थी। साथ ही रेल भी इतनी देर से पहुॅची है। इतनी प्रचण्‍ड गर्मी में भूखा प्‍यासा अगर यात्री सफर करता है तो ये तो निश्चित है कि उसे कोरोना हो या न हो टाइफाइड अवश्‍य हो जायेगा। दूसरी तरफ से हटिया स्‍टेशन पर यात्री के भोजन की व्‍यवस्‍था की गयी थी जब पूछताछ की गयी तो पता चला कि 840 आये यात्रियों में मात्र 108 यात्रियों की ही व्‍यवस्‍था थी इस पर आई.आर.सी.टी.सी. ने कहा कि आनन-फानन में खाना की व्यवस्था की गई है साथ ही सच्‍चाई तो तब सामने आती है जब मात्र 108 यात्रियों के लिये बस सेवा उपलब्‍ध थी। जिला प्रशासन काे तत्काल अतिरिक्त बसें की व्‍यवस्‍था की। जिसके कारण घंटाें मजदूराें काे स्टेशन के बाहर इंतजार करना पड़ा। इन गलतियों का मुख्‍य कारण है कि नई व्‍यवस्‍था में कमियॉ है और लगातार आ सकती हैंं।

Advertisements

पत्रकार मंसूर आलम

विज्ञापन

अन्य ख़बरे

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*


This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.