Trending News
prev next

मुरादनगर शमशान घाट में बड़े हादसे में अभी तक 25 लोगो की मौत !

सत्‍यम् लाइव, 4 जनवरी, 2020, गाज़ियाबाद। गाजियाबाद के थाना मुरादनगर इलाके में शमशान घाट में हुए दर्दनाक हादसे में अब तक 25 लोगों की मौत होना बताया जा रहा है। जिसके चलते इस मामले में मुरादनगर की नगर पालिका की ईओ इंजीनियर और सुपरवाइजर को पुलिस ने देर रात गिरफ्तार कर लिया है। जबकि ठेकेदार अजय त्यागी अभी फरार है। पुलिस का दावा है जल्दी उसे भी गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

शनिवार को मुरादनगर क्षेत्र स्थित एक शमशान घाट के बरामदे में खड़े करीब 40 लोग दब गए थे। यह सभी लोग शमशान घाट में एक व्यक्ति का अंतिम दाह संस्कार करने गए हुए थे। बारिश के कारण सभी लोग छत के नीचे खड़े होकर मौन धारण कर रहे थे। अचानक ही बरामदे का लेंटर भरभरा कर नीचे गिर गया। जबकि यह बरामदा महज 2 महीने पहले ही बनाया गया था। शुरुआती जांच में माना जा रहा है कि इस बरामदे के निर्माण में घटिया सामग्री का इस्तेमाल किया गया। मामले का संज्ञान लेने के लिए खुद गाजियाबाद के जिलाधिकारी अजय शंकर पांडे और एसएसपी कलानिधि नैथानी भी मौके पर पहुंचे। वहीं आईजी जॉन मेरठ और एडीजी भी मौके पर पहुंचे। तत्काल प्रभाव से इस पूरे मामले में गहनता से जांच किए जाने के निर्देश दिए गए। बहरहाल अभी इस मामले में ठेकेदार अजय त्यागी नगर पालिका की ई ओ निहारिका सिंह और जूनिय इंजीनियर चन्द्रपाल एवं सुपरवाइजर आशीष के खिलाफ थाना मुरादनगर में मुकदमा दर्ज हुआ। पुलिस ने ईओ निहारिका सिंह एक इंजीनियर और एक सुपरवाइजर को गिरफ्तार कर लिया है। जबकि ठेकेदार अजय त्यागी अभी फरार है।

ये भी पढ़े: गाजियाबाद नगर निगम द्वारा शहर को दिए जा रहे हैं नए-नए अट्रैक्शंस/ आकर्षण

इस पूरे मामले की जानकारी देते हुए गाजियाबाद के एसपी देहात डॉ ईराज राजा ने बताया कि इनके खिलाफ थाना मुरादनगर के गांव उखलारसी में रहने वाले दीपक पुत्र स्वर्गीय जय राम ने एक तहरीर थाना मुरादनगर में नगर पालिका की ई ओ निहारिका सिंह जूनियर इंजीनियर चंद्रपाल और सुपरवाइजर आशीष एवं ठेकेदार अजय त्यागी के खिलाफ दी गई थी । जिसके बाद निहारिका सिंह ई ओ जूनियर इंजीनियर चंद्रपाल सिंह और सुपरवाइजर आशीष को गिरफ्तार कर लिया गया है ।जबकि ठेकेदार अजय त्यागी अभी फरार है ।उसे भी जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

विज्ञापन

अन्य ख़बरे

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*


This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.