Trending News
prev next

कोलकाता में भारी बारिश प्रारम्‍भ

अमित शाह ने ममता और नवीन पटनायक से की बात गृह मंत्री अमित शाह ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक से बातचीत की और दोनों राज्यों को केंद्र की तरफ से हरसंभव मदद का आश्वासन दिया। यह तूफान से भारत के 13 राज्‍य सहित लगभग 8 देशों को अपनी चपेट में ले सकता है।

सत्‍यम् लाइव, 19 मई 2020, दिल्‍ली।। ‘अम्फान’ का तूफान अब ओडिशा के तटीय इलाकों के पास पहुॅच चुका है और साथ ही उस पूरे क्षेत्र में बारिश प्रारम्‍भ हो चुकी है। पूरे क्षेत्र को खाली कराने का कार्य बहुत तेजी से चल रहा है। ये तूूफान ओडिश के पूरी, केन्‍द्रपाडा, जगतसिंहपुर और खुर्दा जिलों के कई क्षेत्रों में हल्‍की बारिश के साथ हवा की गति भी बढने की सम्‍भावना है। इसके कारण बंगाल की खाड़ी के उत्तरी हिस्सों में उथल-पुथल मची हुई है और समुद्र में, हवा की रफ्तार 275 किलोमीटर प्रतिघंटे की से हवाएं चल रही हैं। साथ ही मौसम विभाग ने यह भी जानकारी दी है कि विशाखापट्टनम (आंध्र प्रदेश) में डॉप्लर वेदर रडार (DWR) द्वारा लगातार ट्रैक किया जा रहा है भयावह से बचाने के पूरे उपाय किये जा रहे हैं। अमित शाह ने ममता और नवीन पटनायक से की बात गृह मंत्री अमित शाह ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक से बातचीत की और दोनों राज्यों को केंद्र की तरफ से हरसंभव मदद का आश्वासन दिया। लगातार चलते राहत कार्य में, लोगों को राहत शिविरों में पहुॅॅॅॅॅचाया गया है पश्चिमी बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने कहा कि अम्‍फान के खतरे को देखते हुए तीन तटीय जिलों से अब तक लगभग तीन लाख लोगों को राहत शिविरों में पहुंचाया गया है। रेलवे से अनुरोध करती हूं कि एहतियात के तौर पर प्रवासी श्रमिकों को बुधवार, बृहस्पतिवार की सुबह पश्चिम बंगाल वापस नहीं लाया जाए। कोलकाता मेें भारी बारिश प्रारम्‍भ हो चुकी है और बुधवार को इस क्षेत्र में अम्‍फान तूफान के पहॅुुुुुचने का पूरा अनुमान है। इस तूफान केे कारण भारी तबाही हो सकती है अत: सभी से अनुरोध किया गया है कि सुरक्षित स्‍थान पर ही रहें। टेलीकॉम सर्विस से कहा गया है कि वे सभी जिलों में पर्याप्त डीजल के साथ जनरेटर सेट की व्यवस्था करें अगर बिजली न रहे तो इन जनरेटरों की मदद से टावरों को फिर से चालू किया जा सके। राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन बल (एनडीआरएफ) की ओडिशा में 15 और पश्चिम बंगाल में 19 टीमें तैनात की गई हैं। एनडीआरएफ के प्रमुख एसएन प्रधान ने कहा कि ये टीम जागरूकता, संचार और लोगों को बाहर निकालने का काम कर रही हैं। बंगाल में दो टीम निकलने के लिए तैयार हैं। उन्होंने कहा कि हम इस समय दोहरी चुनौती का सामना कर रहे हैं। यह तूफान से भारत के 13 राज्‍य सहित लगभग 8 देशों को अपनी चपेट में ले सकता है।

विज्ञापन

अन्य ख़बरे

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*


This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.