Trending News
prev next

अनलाॅॅॅॅक-4 में शिक्षा पर गाइडलाइंस

जगत गुरू भारत में बदलती शिक्षा पर नयी गाइडलाइंस जारी की गयी है।

सत्‍यम् लाइव, 31 अगस्‍त 2020 दिल्‍ली।। केन्‍‍द्र सरकार ने अनलॉक-4 जारी करते हुए स्कूल, कॉलेज, कोचिंग और अन्य शिक्षण संस्थानों को तो बंद ही रखने का फैसला किया है लेकिन सीनियर क्लास के लिए कुछ नियम के तहत छुट दी है। गाइडलाइंस के अनुसार, कंटेनमेंट जोन के बाहर के स्कूलों में स्वेच्छा से 9वीं और 12वीं के छात्र स्कूल जा सकते हैं। कई राज्य केंद्र के साथ हुई बैठक में स्कूल खोलने को लेकर सहमत दिखे थे। केंद्र ने भी जिन राज्यों में कोरोना के मामले कम थे वहां स्कूल खोलना राज्यों पर छोड़ दिया था। आइए जानते हैं किस-किस राज्य में खुलेंगे स्कूल। अनलॉक-4 की गाइडलाइन में कहा गया है कि 21 सितंबर से राज्य और केंद्र शासित प्रदेश स्कूलों में 50 प्रतिशत टीचिंग स्टाफ को स्कूल आने के परमिशन दे सकते हैं। ये स्टाफ ऑनलाइन टीचिंग के लिए स्कूल आ सकते हैं। इस दौरान सभी स्कूल, कॉलेज, कोचिंग और अन्य शिक्षण संस्थान बंद रहेंगे। कक्षा 9-12 के स्टूडेंट्स अपने अभिभावक की अनुमति से स्कूल जा सकेंगे। वहीं देश के अलग- अलग हिस्‍सों में किस प्रकार स्‍कूल खुलेंगें। उत्तर प्रदेश सरकार में अभिभावकों की सहमति से कंटेनमेट जोन के बाहर कक्षा 9वीं से 12वीं तक के छात्र स्वैछिक आधार पर 21 सितंबर से बुलाए जा सकते हैं लेकिन इसके लिए किसी को बाध्य नहीं किया जाएगा। उच्च शिक्षा और गृह विभाग की सहमति के बाद पीएचडी और लैब वर्क वाले पीजी छात्र बुलाए जा सकेंगे। बाकी स्कूल, कॉलेज, शैक्षणिक और कोचिंग संस्थान छात्रों के लिए 30 सितंबर तक के लिए बंद ही रहेंगे। मध्य प्रदेश के स्कूल शिक्षा मंत्री इंदर सिंह परमार ने हाल ही एक बयान में कहा कि प्रदेश में स्कूल खोलने की तिथि कोरोना वायरस संक्रमण की स्थिति पर निर्भर करेगी। फिलहाल उन्होंने सितंबर महीने में स्कूल खुलने की संभावना से इनकार किया। प्रदेश में कोरोना नियंत्रण की स्थिति के आधार पर ही स्कूल खोले जाने का फैसला लिया जाएगा। आंध्रप्रदेश ने पहले 5 सितंबर से स्कूल खोलने का फैसला किया था लेकिन केंद्र की गाइडलाइंस के बाद राज्य सरकार अब इस मामले में 1 सितंबर को फैसला लेगा। राज्य के प्रधान सचिव बी राजशेखर ने कहा था कि राज्य सरकार केंद्र के गाइडलाइन के बाद ही कोई फैसला करेगी। इस बीच, उन्होंने स्कूलों की तैयारियों का जायजा भी लिया है । दिल्ली सरकार ने साफ किया है कि जबतक राज्य में कोरोना के मामलों पर लगाम नहीं लगती है तबतक राज्य में स्कूल नहीं खुलेंगे। सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा था कि वह इस महामारी के नियंत्रण में आने के बाद स्कूल खोलने पर कोई फैसला करेंगे। राजस्थान में स्कूल खोलने को लेकर सरकार की ओर से अभी साफ तौर से कुछ नहीं कहा गया है। हालांकि, स्कूलों को खोलने को लेकर विचार-विमर्श चल रहा है। माना जा रहा कि 21 सितंबर के बाद 9वीं से लेकर 12वीं तक के छात्र स्कूल जाकर अध्यापकों का मार्गदर्शन ले सकेंगे। हालांकि इसको लेकर माता-पिता की लिखित मंजूरी जरूरी होगी। राज्य में स्कूल खोलने को लेकर बीएस येदियुरप्पा सरकार ने कोई फैसला नहीं किया है। हालांकि कॉलेज में 1 अक्टूबर से कक्षाएं शुरू हो जाएंगी। तेलंगाना में ऑनलाइन कक्षाएं जारी रहेंगी। करीब 30 हजार सरकारी स्कूल 27 अगस्त को खुल गई थीं और करीब 1 लाख शिक्षकों ने ड्यूटी ज्वाइन कर ली है। झारखंड में भी स्कूल खोलने को लेकर अभी कोई फैसला नहीं लिया गया है। पिछले दिनों मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने ने कहा था कि कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए स्कूलों को खोलने के फैसले पर फिलहाल कोई बात नहीं हुई है। हालात सुधरने के बाद ही इस पर फैसला लिया जाएगा। यह बच्चों का मामला है। स्कूल खोलने को लेकर अभिभावकों से राय ली जाएगी उसके बाद ही फैसला किया जाएगा। छत्तीसगढ़ में स्कूल-कॉलेज 30 सितंबर तक बंद रहेंगे। हालांकि, 21 सितंबर से कंटेनमेंट जोन से बाहर स्थित स्कूल में 50 फीसदी शिक्षकों को बुलाया जा सकेगा। कक्षा 9वीं से 12वीं तक के छात्र स्कूल में शिक्षकों से मार्गदर्शन के लिए जा सकेंगे। इसके लिए उन्होंने माता-पिता या फिर अभिभावक की लिखित सहमति जरूरी होगी। पश्चिम बंगाल में स्कूल 20 सितंबर तक बंद रहेंगे। राज्य सरकार ने अभी स्कूल खोलने पर कोई फैसला नहीं लिया है। हालांकि सरकार ने संकेत दिए हैं कि 20 सितंबर के बाद स्कूल खोला जा सकता है। कोरोना संकट के बीच बिहार में 6 सितंबर तक लॉकडाउन है। ऐसे में फिलहाल स्कूल खोलने को लेकर अभी कोई फैसला नहीं लिया गया है। हाल ही में शिक्षा विभाग ने स्पष्ट किया कि किसी भी हालत में कक्षा एक से लेकर आठ तक के स्कूलों में पढ़ाई की इजाजत नहीं दी जाएगी। दूसरी कक्षाओं को लेकर भी अभी कोई फैसला नहीं लिया गया है। सिक्किम के स्कूल 1 सितंबर से खुल जाएंगे लेकिन अभी केवल शिक्षक ही स्कूल जाएंगे। छात्रों के स्कूल आने पर कोई फैसला नहीं किया गया है। असम सरकार ने 1 सितंबर से स्कूल खोलने का फैसला किया है। ओडिशा में स्कूल दुर्गा पूजा तक बंद रहेंगे। पांच दिवसीय दुर्गा पूजा 22-26 अक्टूबर तक आयोजित होगी।

सुनील शुक्‍ल

विज्ञापन

अन्य ख़बरे

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*


This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.