Trending News
prev next

आज से दिल्ली में बिजली के फिक्स्ड चार्ज घटे, आपके घर पर सस्ते हुए बिजली बिल

दिल्ली : दिल्ली के उपमुख्यमंत्री व दिल्ली सरकार के ऊर्जा मंत्री सत्येंद्र जैन ने आज केंद्रीय सचिवालय पर प्रेस वार्ता करते हुए बिजली के दामों में हुई भारी कटौती के बारे में जानकारी दी। उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने प्रेस वार्ता के दौरान कहा कि मैं दिल्ली के लोगों को बधाई देना चाहूंगा जिन्होंने एक ऐसी सरकार चुनी जिसने बिजली के बिल नहीं बढ़ने दिया।

उनका कहना है कि दिल्ली अकेला राज्य है जहां 5 सालों की में बिजली के रेट बढ़ने की जगह घटे हैं। अगर बाकी राज्यों के आंकड़े उठाकर देखेंगे तो सभी राज्यों में लगातार बिजली के रेट बढ़ रहे हैं।

उन्होंने दिल्ली में बिजली के पिछले 10 साल के आंकड़ों को गिनाते हुए कहा कि दिल्ली में 2010 में 200 यूनिट के लिए ₹539 लिए जाते थे, वहीं 2013 में यह आंकड़ा बढ़कर ₹928 हुआ, जिसके बाद 2016 में ₹607 और अब 2019 में 200 यूनिट के लिए ₹408 दिए जा रहे हैं।

दिल्ली एक ऐसा पहला राज्य है जहां पर 2010 से लगातार बिजली के रेट घटते जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि अरविंद केजरीवाल ने 4 महीने पहले घोषणा की थी कि दिल्ली में बिजली के फिक्स चार्ज कम कर दिए जाएंगे और आज आधिकारिक तौर पर हमने इस चीज की घोषणा कर दी है।

ये भी पढ़े : 2 दिन से लापता, कैफ़े कॉफी डे (सीसीडी) के मालिक वीजी सिद्धार्थ का शव नेत्रवती नदी किनारे मिला.

उनका कहना है कि हमारी सरकार ने छोटे व्यापारी जोकि कमर्शियल कनेक्शन का इस्तेमाल कर रहे हैं उनको इस चीज का सर्वाधिक फायदा होगा। डॉक्टर, वकील, चार्टर्ड अकाउंटेंट, किराना स्टोर वाले लोग फिक्स चार्ज कम होने का फायदा उठा सकेंगे।

दिल्ली में जब से अरविंद केजरीवाल सरकार आई है तब से यहां पर 24 घंटे बिजली आती है और पावर कट का चार्ट भी नीचे गया है। आज के समय में लोग इनवर्टर और जनरेटर भूल चुके हैं। उनका कहना है कि अगर दिल्ली में बिजली के रेट कम हो सकते हैं तो बाकी अन्य राज्यों में क्यों नहीं हो सकते।

बाकी राज्यों में बढ़ रहे बिजली के दामों पर राज्यों की सरकारों को इस पर जवाब देना चाहिए। सभी राज्यों के मुकाबले दिल्ली में सबसे सस्ती बिजली लोगों को दी जा रही है।

उन्होंने कहा कि गुड़गांव में 200 यूनिट बिजली के लिए ₹910, जबकि नोएडा में 1310, मुंबई में 1410, राजस्थान के अजमेर में 1588 प्रति 200 यूनिट के लिए वसूले जाते हैं। इन सभी राज्यों में बिजली के नाम पर बड़े-बड़े घोटाले किए गए हैं, जिनकी सीबीआई जांच होनी चाहिए

दिल्ली के लोगों ने ईमानदार सरकार का चुनाव किया है जो कि लगातार यहां के लोगों की जिंदगी बदलने में लगी हुई है। और लगातार विकास कार्य बड़ी संख्या में यहां पर किए जा रहे हैं। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल यहां के लोगों की सबसे पहले चिंता करते हैं

उनका कहना है कि 3 किलोवाट कमर्शियल कनेक्शन पर कम कर दिए गए हैं इन लोगों को ढाई ₹1000 प्रति महीने की बचत बिजली के जरिए होने वाली है।

ऊर्जा मंत्री सत्येंद्र जैन ने जानकारी देते हुए बताया कि बिजली वाहनों पर नो टेंशन के रेट को साडे 5 से घटाकर साडे 4 कर दिया गया है वहीं हाईटेंशन में भी एक रुपए की घटोतरी की गई है।

विज्ञापन

अन्य ख़बरे

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*


3 + 19 =

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.