Breaking News
prev next

मधुुबनी का विकास, बारिश ने धोया

सत्‍यम् लाइव, 29 जून, 2020 दिल्‍ली।। मधुबनी का क्षेत्र को रामायण कालीन कहा जाता है श्रीराम सांस्‍कृतिक शोध संस्‍थान न्‍यास के शोध के अनुसार, वाल्‍मीकि रामायण और मानस लिखित है कि महर्षि गौतम की ओर से सम्‍मान पाकर राजा जनक की नगरी मिथिला में प्रवेश किया था तथा साथ ही मधुवनी की सीमा से सटे माता सीता का जन्‍म स्‍थल सीतामढी है। सिर्फ इतनी ही उपलब्धियॉ लिये हुए नहीं खडा है, मधुबनी बल्कि अपने आप संस्‍कृति और सभ्‍यता की धरोहर केे रूप में, अपनी मैथली भाषा के लिये आज भी पहचान बनाये हुए है। मधुबनी के बारे यदि मैं कुछ लिखूॅॅ तो कलम की स्‍याही कम पड सकती है शब्‍द कम पड सकते हैंं, बस इतना ही कहना पर्याप्‍त होगा कि जिस स्‍थल पर जगतारिणी जगदम्बिकेे प्रकट हुई हों उस स्‍थल का कलयुग में ऐसा हाल होगा ये देखकर कुछ कह नहीं पाता हूॅॅ आप स्‍वयं सोचे यदि आज का विकास सही दिशा पर होता तो स्‍वयं जगत की माता नेे इसी स्‍थल पर जन्‍म लेकर कलयुगी विकास की राह क्‍यों नहीं दिखाई। जी हॉ, ये वही मधुबनी है जहॉ पर माता सीता गिरिजा देवी के मन्दिर में, विवाह से पहले पूजा करने आयींं थी।

श्रीराम सांस्‍कृतिक शोध संस्‍थान न्‍यास के शोध से प्राप्‍त तस्‍वीर

आज की ये स्थिति देखकर तथाकथित श्रीराम के भक्‍तों पर क्रोध तो आता ही है परन्‍तु उनके गलत दिशा पर विकास को देखकर दया भी आती है। डॉ. एस. बालक द्वारा भेजे गये चित्र को आप स्‍वयं देख सकते हैं और मधुबनी की जनता का आक्रोश का अन्‍दाजा लगा सकते हैं। ऐसे में एलईडी लगाकर चुनाव प्रचार करना कहाॅॅ तक ठीक है ? आप स्‍वयं निर्णय करें। पत्रकार डॉ. एस. बालक ने जब समस्‍त जनता से मिलेे तो जनता का आक्रोश सामने आया, सारी ही जनता अपने अपने वयान देने में नहीं चूक रही है। पत्रकार डॉ. एस. बालक के अनुसार विधायक या सांसद सिर्फ कानून बनाने के लिये नहीं चुने जाते है और क्षेत्र के विकास में, उनका महत्वपूर्ण हिस्सेदारी होती है। क्षेत्र के विकास के लिये विधायक महोदय को, 3 करोड़ सलाना और सांसद महोदय को 5 करोड़ सलाना मिलता है। इस हिसाब से एक पंचवर्षीय में, कुल 40 करोड़ों रुपये महोदय प्राप्त करते है। ये राशि किसी भी क्षेत्र के विकास के लिये, ये राशि कम नहीं होती है। 50% हजम करने के बाद भी, अगर ईमानदारी पूर्वक 50% क्षेत्र के विकास में लगा दिये होता तो आज क्षेत्र की यह हालत देखने को नहीं मिलता। जनता के खून पसीना की कमाई से लिया गया। टैक्स को 100 फीसदी डकारने वाले विधायक और सांसद कान खोल कर सुने। इस बार के विधान सभा के चुनाव में, जनता आपसे से हिसाब मांगेगी। 15 साल में, कभी नीतीश बाबू को याद नहीं आया कि खेतो तक, कैसे पानी पहुंचाया जाय? अब जब चुनाव नजदीक है तो जनता को उल्लू बनाया जा रहा है। जिस पुण्‍य धरा पर, भाषा शैली के महान कवि जन्‍में हों। उस पर क्‍या लिखूॅॅगा मैंं? बिहार के बेगूसराय मेंं जन्‍मे इस धरा पर राष्‍ट्र्रकवि रामधारी सिंह दिनकर जी के कदम अवश्‍य पडे हैंं और उनकी ही पंक्तियोंं में कहा जायेे तो ”जब नाश मनुज पर छाता है, पहले विवेक मर जाता है।”

सुनील शुक्‍ल

विज्ञापन

अन्य ख़बरे

  • नहीं होगीं काॅलेज और यूनिवर्सिटी की परीक्षाएं.. दिल्‍ली सरकार
    सत्‍यम् लाइव, 10 अगस्‍त 2020, दिल्‍ली।। इस कोरोना संकट के चलते दिल्ली सरकार का बड़ा  फैसला आया है, नहीं होगें काॅलेज और यूनिवर्सिटी की पराीक्षाएं। यानी इस साल जो परीक्षाए नही हुई है, उसको आयोजित नहीं करवाने का […]
  • सिवान में BJP सांसद की उपस्थिति में चले लात घूंंसे
    सत्‍यम् लाइव, 10 अगस्‍त 2020, दिल्‍ली।। मामला सिवान लकड़ी नवीगंज के पड़ौली पंचायत भवन में महराजगंज से बीजेपी सांसद जनार्दन सिंह सिग्रीवाल व मुखिया के समर्थकों बीच में हुई भिड़ंत में, जमकर लात-घूंसे चले और दर्जनों […]
  • रुद्रप्रयाग में फटा बादल, हुई भारी तबाही
    सत्‍यम् लाइव, 10 अगस्‍त 2020 दिल्‍ली।। एक तरफ बढते विकास के कदम में सब कुछ ऑनलाइन पर जोर दिया जा रहा है तो दूसरी तरफ प्रकृति ने स्‍वयं को भी अपनेे विचारों की कसौटी में बॉधकर विकास की धारणा बनवाता चला जा रहा है। […]
  • प्रधानमंत्री ने किसानों को दी बड़ी सौगात
    सत्‍यम् लाइव, 9 अगस्‍त 2020, दिल्‍ली।। देश भर के किसानों को राहत पहुंचाने के लिए पीएम मोदी ने एक बड़ी सौगात दी है प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए एक लाख करोड़ के एग्रीकल्चर […]
  • बिहार में 73 लाख 32 हजार बाढ़ से प्रभावित
    सत्‍यम् लाइव, 9 अगस्‍त 2020, दिल्‍ली।। बिहार में बाढ़ का प्रकोप कम होता नहीं दिख रहा है. बिहार के 16 जिले बाढ़ की चपेट में आ चुके हैं. सीतामढ़ी, शिवहर, सुपौल, किशनगंज, दरभंगा, मुजफ्फरपुर, गोपालगंज, पूर्वी चंपारण, […]
  • बीएसएनएल अब घर-घर पहुंचाएगा इंटरनेट
    सत्‍यम् लाइव, 9 अगस्‍त 2020, दिल्‍ली।। देश की एक मात्र सरकारी टेेलिकाॅम कंपनी ”बीएसएनएल’’ ने देश के कोने कोने में लोगों को इंर्टनेट पहुंचाने के लिए अपना नया पोर्टल http://bookmyfiber.bsnl.co.in/ लाॅन्च किया […]