Breaking News
prev next

गैस रिसाव के कारण 20 गॉव खाली

अभी तक यही जानकारी प्राप्‍त हो सकी है कि लॉकडाउन में बन्‍द पडी कम्‍पनी की सफाई की जा रही थी जिसके कारण बहुत समय से जमा गैस लीक हो गयी है।

सत्‍यम् लाइव, 8 मई 2020 दिल्‍ली।। कल विशाखापत्‍तनम् में हुए गैस रिसाव के हादसे में अब तक आयी सूचना के आधार पर बता दे कि गैस रिसाव की वजह से 3 से 4 किलोमीटर केे बीच में जितने भी गॉवों है वो खाली करा लिये गयेे हैंं इन गावों की सख्‍या 20 बताई जा रही है। अब या तो किलोमीटर ज्‍यादा हो सकतेे हैं या फिर गॉव कम। स्‍टाइरीन गैस जो लीक हुई है वो लगभग 5 हजार टन के लगभग बताई जा रही है ये कितनी घातक हो सकती है ये कह पाना अभी तक पूरी तरह से सम्‍भव नहीं है परन्‍तु इतना अवश्‍य कहा जा सकता है कि भोपाल गैस काण्‍ड का दर्द अभी भी वहॉ के लोग वयां करते हैंं। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में अमेरिकी कंपनी यूनियन कार्बाइड के कारखाने में 3 दिसंबर 1984 को 42 हजार किलो जहरीली गैस का रिसाव हुआ था। इसमें 3500 लोगों की मौत हुई थी। यह तो आधिकारिक आंकड़ा है, लेकिन माना जाता है कि इस हादसे में 15 हजार से 20 हजार के बीच में लोगों की जान गयी थी। यहां भी एक ऑर्गनिक कम्पाउंड से निकली गैस मिथाइल आईसोसाइनेट फैली थी। येे भी गैस कीटनाशक और पॉली प्रॉडक्ट बनाने के काम आती है। सुरक्षा के मद्देेनजर फायर विभाग ने अपनी गाडियों को तैनात कर रखा है। बताया जा रहा हैै कि लॉकडाउन केे दौरान बन्‍द पडी कम्‍पनी के गैस वाल्‍व में खराबी थी जो हादसे की वजह बन गयी। विशाखापत्‍तनम् नगर निगम कमिश्‍नर श्रीजना गुम्‍मल्‍ला के मुताबिक अभी तो यही पता चला है कि पीवीसी या स्‍टाइनीन गैस का रिसाव से हादसा हुआ है पूरी बात जो जॉच के बाद कही जा सकती है। मुख्‍यमंत्री वाई एस जगनमोहन रेड्डी ने अमरावती में अधिकारियों के साथ एक आपात बैठक करने के बाद कहा कि जिला प्रशसन को तत्‍काल कदम उठाने की और जनता को सहायता करने केे निर्देश जारी कर दिये गये हैं अगर किसी को ऑखों में जलन या श्‍वॉस लेने की समस्‍या आये तो जिला प्रशासन से सम्‍पर्क करे। साथ ही गैस रिसाव के मृृृतकों के परिजनोंं को 1 करोड रूपये सहायता राशि देने की घोषणा भी कर दी है साथ कमेटी बनाकर जॉच के आदेश कर दिये हैं। आंध्र प्रदेश सरकार की ओर से कम्‍पनी से बात कर मृतकोंं के परिजनों को कम्‍पनी के ही प्‍लांट में नौकरी दिलाने की अपील की है जो वेटिलेटर पर व्‍यक्ति है उसके लिये मुख्‍यमंत्री ने 10 लाख रूपये सहायता राशि देने की घोषणा की है।

इसे भी पढे : स्‍टीरीन गैस कितनी घातक ? https://www.satyamlive.com/how-deadly-is-styrene-gas/

उपसम्‍पादक सुनील शुक्‍ल

विज्ञापन

अन्य ख़बरे

  • अब एलआईसी की बारी
    सत्‍यम् लाइव, 7 सितम्‍बर 2020, दिल्‍ली।। काफी समय से भारतीय जीवन बीमा निगम को बेचने की जो कवायद चल रही थी वो अब अंतिम चरण में आ चुकी है। यह तय हो गया है कि कुल 25 प्रतिशत हिस्सेदारी बेच दी जाएगी। एलआईसी को बेचने के […]
  • भारतीय रेलवे जल्द ही करेगा भर्तियां
    सत्‍यम् लाइव, 7 सितम्‍बर 2020, दिल्‍ली।। लाेेेकडाउन केे बाद आनलाक की प्र‍क्रिया के तहत सरकार एक एक कर के सरकारी क्षेत्राेे में खाली पदों कों भरने केे लिए, परीक्षाओं का दिशा निर्देश जारी कर रही है। इन्‍ही मेंं से […]
  • मेरठ प्रांत के नेत्रदान पखवाड़े के उपलक्ष्‍य में वेबीनार…
    सत्‍यम् लाइव, 7 सितम्‍बर, 2020, दिल्‍ली।। आज दिनांक 6 सितंबर 2020 दिन रविवार को नेत्रदान पखवाड़े के उपलक्ष में सक्षम मेरठ प्रांत ने एक ई- संगोष्ठी का आयोजन किया। जिसकी अध्यक्षता श्री राम कुमार मिश्रा राष्ट्रीय […]
  • 5 सितम्‍बर, 5 मिनट, 5 बजे… बेरोजगार ने पीटी थाली
    सत्‍यम् लाइव, 6 सितम्‍बर 2020, दिल्‍ली।। सोशल मीडिया केे द्वारा लगातार शेयर की जा रही है जो तस्‍वीरें वो पहले कोरोना को लेकर जनता ने थाली पीटी थी परन्‍तु वक्‍त ने अपनी करवट लेे ली है तो अब 5 सितम्‍बर, 5 मिनट, 5 […]
  • बढेती बेरोजगारी पर एक नजर
    सत्‍यम् लाइव, 6 सितम्‍बर 2020, दिल्‍ली।। चरमराती अर्थव्‍यवस्‍था ने भारत में करोडों लोगों को बेरोजगार बनाया है और अभी जो दशा दिख रही है उससे तो साफ दिखाई दे रहा है कि करोडो लोग अभी बेरोजगार होने जा रहे हैं उसका कारण […]
  • ‘दस हफ्ते, दस बजे दस मिनट’ .. केजरीवाल
    सत्‍यम् लाइव, 6 सितम्‍बर 2020, दिल्‍ली।। कोरोना वायरस अभी समाप्‍त नहीं हो पाया है कि तभी डेंगू से वचाव के लिये दिल्‍ली सरकार ने अभियान प्रारम्‍भ कर दिया हैै। इतना सैनेटाइजर दिल्‍ली में छिडकाव हो चुका है जिससे एक […]