Trending News
prev next

सेल्फी लेते समय गोली चलने से युवक की मौत

दिल्ली: विजय विहार इलाके में गुरुवार रात सेल्फी लेते समय पिस्टल से गोली चलने से 23 वर्षीय युवक की मौत हो गई। मृतक का नाम विजय है पुलिस ने हत्या की धाराओं में मामला दर्ज कर लिया और मौके से फरार मृतक के दोस्त की तलाश की जा रही है। वहीं पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंप दिया है।

सूत्रों के अनुसार, विजय मूलरूप से राजस्थान के झुंझनू जिले का रहने वाला था। वह दो साल पहले राजस्थान से बीए की पढ़ाई पूरी करने के बाद नौकरी की तलाश में दिल्ली अपने चाचा-चाची के घर पर आ गया था। वह इन दिनों नौकरी ढूंढ़ रहा था। इस दौरान उसकी दोस्ती पड़ोस में रहने वाले आपराधिक प्रवृत्ति के मोनू नाम के युवक से हो गई। परिजनों ने बताया कि गुरुवार रात को मोनू पिस्टल लेकर घर आया और सीधे विजय के कमरे में चला गया। वे कमरे में अलग-अलग स्टाइल में पिस्टल के साथ मोबाइल से सेल्फी ले रहे थे।

परिजनों ने बताया कि कुछ ही समय बाद कमरे में फायरिंग की आवाज सुनाई दी और फिर उन्होंने मोनू को वहां से भागते हुए देखा। इसके बाद वे कमरे में गए जहां पर विजय खून से लथपथ पड़ा हुआ था। पजिनों ने तुरंत घटना की सूचना पुलिस को दी और एम्बुलेंस की मदद से विजय को पास के अस्पताल में भर्ती कराया, जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया। मौके पर पहुंची पुलिस ने घटनास्थल से पिस्टल बरामद कर ली है। वहीं फरार मोनू की तलाश की जा रही है।

पुलिस को विजय के मोबाइल फोन से उसकी और मोनू की नौ सेल्फी पिस्टल के साथ मिली हैं। वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि ये सारी सेल्फी घटना से ठीक पहले खिंची गई थीं। इसलिए माना जा रहा है कि सेल्फी लेने के दौरान ही गोली चली है। गौरतलब है कि इससे पहले सरिता विहार में सेल्फी लेने के दौरान लाइसेंसी पिस्टल से गोली चलने के कारण शिक्षक की मौत हो गई थी।

डीसीपी ने बताया कि परिजनों के बयान में विरोधाभास आ रहा है और वे जांच में सहयोग नहीं कर रहे हैं। फिलहाल हर कोण से जांच की जा रही है।

कमरे में चचेरे भाई-बहन भी थे मौजूद

सूत्रों के अनुसार घटना के वक्त विजय का पांच साल का चचेरा भाई और 13 साल की चचेरी बहन मौजूद थे। फायरिंग उनके सामने हुई थी। अब जांच के बाद ही यह तथ्य सामने आएगा कि गोली दुर्घटनावश चली है या फिर विजय की हत्या हुई है।

विज्ञापन

अन्य ख़बरे

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*


This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.