Trending News
prev next

श्रीदेवी का राजकीय सम्मान से होगा अंतिम संस्कार

मुंबई : बॉलीवुड की मशहूर अदाकारा श्रीदेवी के पार्थिव शव को तिरंगे से लपेटा गया है। पद्मश्री पुरस्कार से सम्मानित श्रीदेवी का राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार होगा। उनकी अंतिम यात्रा पर लाखों फैन्स शामिल हुए है। जिस ट्रक में उनकी अंतिम यात्रा निकाली गई, उसे सफेद फूलों से सजाया गया क्योंकि श्रीदेवी को सफेद रंग बहुत पसंद था। श्रीदेवी के निधन ने न सिर्फ मायानगरी बल्कि पूरे देश को गमगीन कर दिया। अपनी पसंदीदा कालाकार के पार्थिक शव के अंतिम दर्शन के लिए आज (बुधवार) सुबह से उनके फैन्स और बॉलीवुड सितारों का आना जाना रहा। सभी की आंखे नम थी और श्रीदेवी के दुनिया छोड़ जाने का गम।

श्रीदेवी की अंतिम यात्रा

मुंबई के सिलिब्रेशन स्पोर्ट्स क्लब से श्रीदेवी की अंतिम यात्रा निकाली गई। फूलों से सजे सफेद ट्रक के श्रीदेवी का पार्थिव शरीर रखा गया। शाम 4 बजे उनका पूरे राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया जाएगा।

दोपहर 4 बजे होगा अंतिम संस्कार

आज दोपहर 4 बजे पवनहंस श्मशान में राजकीय सम्मान के साथ उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा। सेलिब्रेशन स्पोर्ट्स क्लब से उनकी अंतिम यात्रा निकाली गई। मंगलावर रात 10.30 बजे श्रीदेवी का पार्थिव शरीर मुंबई स्थित उनके घर पहुंचने के बाद उनके घर के बाहर प्रशंसकों की भीड़ बहुत बढ़ गई। रातभर उनके घर सितारों के पहुंचने का सिलसिला जारी रहा और एक के बाद एक बॉलीवुड की हस्तियां उनके अंतिम दर्शन के लिए पहुंचने लगी। उनके निधन पर न सिर्फ मायानगरी बल्कि पूरा देश शोक में डूबा हुआ है। मंगलवार देर रात श्रीदेवी का पार्थिव शरीर मुंबई पहुंचते ही उनके निवास के बाहर प्रशंसकों की भीड़ उमड़ पड़ी। कुछ फैन्स तो सारी रात उनके घर के बाहर मौजूद रहे। मंगलावर रात 10.30 बजे श्रीदेवी का पार्थिव शरीर मुंबई स्थित उनके घर पहुंचने के बाद उनके घर के बाहर प्रशंसकों की भीड़ बहुत बढ़ गई। रातभर उनके घर सितारों के पहुंचने का सिलसिला जारी रहा और एक के बाद एक बॉलीवुड की हस्तियां उनके अंतिम दर्शन के लिए पहुंचने लगी। उनके निधन पर न सिर्फ मायानगरी बल्कि पूरा देश शोक में डूबा हुआ है। मंगलवार देर रात श्रीदेवी का पार्थिव शरीर मुंबई पहुंचते ही उनके निवास के बाहर प्रशंसकों की भीड़ उमड़ पड़ी। कुछ फैन्स तो सारी रात उनके घर के बाहर मौजूद रहे।

अनिल कपूर के गले लगकर रोए बोनी

श्रीदेवी के पार्थिव शरीर को लाने के लिए उद्योगपति अनिल अंबानी का विशेष विमान दो दिन पहले ही दुबई पहुंच चुका था। रात करीब 9.30 बजे जब दस यात्रियों को लेकर अंबानी का जेट लौटा तो उसमें बोनी कपूर और अर्जुन कपूर के अलावा बोनी की बहन रीना मारवाह भी थीं। रीना के बेटे की शादी में ही भाग लेने के लिए श्रीदेवी दुबई गई थीं। हवाई अड्डे पर भाई अनिल कपूर को देखते ही बोनी उनके गले लगकर रो पड़े। वहां अनिल अंबानी, उनकी पत्नी टीना, बोनी के सबसे छोटे भाई संजय के अलावा सोनम कपूर भी थीं। हालांकि, श्रीदेवी की दोनों बेटियां-जान्हवी और खुशी अपने चाचा अनिल कपूर के घर में थीं।

अर्जुन कपूर गए थे दुबई

श्रीदेवी के पार्थिव शरीर को लाने के लिए बोनी कपूर के बेटे अर्जुन कपूर भी दुबई पहुंच गए थे। वह पिता का हौसला बढ़ाने के लिए दुबई गए थे, क्योंकि वहां संकट की घड़ी में वह बहुत अकेलापन महसूस कर रहे थे। गौरतलब है कि अर्जुन बोनी कपूर की पहली पत्नी मोना की संतान हैं। अर्जुन की एक बहन भी है।

परिवार ने जारी किया शोक कार्ड

कपूर व अयप्पन परिवार ने श्रीदेवी के निधन व अंत्येष्टि का शोक कार्ड जारी किया है। कार्ड के सबसे ऊपर “पद्मश्री श्रीदेवी कपूर” लिखा है। इसमें श्रद्धांजलि सभा और अंतिम दर्शन कार्यक्रम का समय व अन्य ब्योरा है। इसमें कपूर परिवार व अय्यप्पन परिवार की ओर से शोक व्यक्त किया गया है।

 

विज्ञापन

अन्य ख़बरे

Be the first to comment

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.