Trending News
prev next

राहुल गांधी के कैंडल मार्च में धक्का मुक्की

नई दिल्ली: जम्मू-कश्मीर के कठुआ दुष्कर्मकांड के विरोध में गुरुवार रात 12 बजे कांग्रेस ने मान सिंह रोड से इंडिया गेट तक कैंडल मार्च निकाला। भारी भीड़ में प्रियंका को काफी परेशानी हुई और उनसे धक्का मुक्की भी हुई। इसके बाद प्रियंका गांधी ने कांग्रेसी कार्यकर्ताओं को जमकर खरीखोटी सुनाई। मार्च के दौरान प्रियंका को चारों तरफ से कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने घेर लिया था और भीड़ के कारण वो बाहर नहीं निकल पा रहीं थीं। धक्का-मुक्की के दौरान वे डर गईं। वीडियो में डरी हुईं प्रियंका कोहनी मारकर आगे बढ़ते हुए दिखाई दीं।

इस दौरान उनकी बेटी भी भीड़ में फंस गईं थी और डरकर रोने लग गई थी, जिसके बाद प्रियंका बैरीकेड को धक्का देते हुए आगे बढ़ीं और अपनी बेटी को चुप कराकर गले लगाया और भीड़ से बाहर निकाला।

प्रियंका ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर आग-बबूला होते हुए कहा कि आप खुद से पूछिए आप यहां क्या करने आए हैं और क्या कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि जिसे धक्का मारना है वो घर चला जाए, नहीं तो शांति के साथ आगे आएं।

प्रियंका ही नहीं, राहुल गांधी को भी कांग्रेस कार्यकर्ताओं की धक्का-मुक्की का सामना करना पड़ा। इसके बाद एसपीजी ने राहुल को कुछ देर के लिए गाड़ी में बैठा लिया। हालांकि, इसके बाद राहुल बाहर आए और वहां मौजूद लोगों से बातचीत की।

पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी की अगुआई में निकाले गए कैंडल मार्च में प्रियंका वाड्रा, राबर्ट वाड्रा, उनकी बेटी के साथ अहमद पटेल, दिग्विजय सिंह, सलमान खुर्शीद, दिल्ली प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय माकन, रणदीप सिंह सुरजेवाला, अशोक गहलोत, अंबिका सोनी सहित कई कांग्रेस नेता शामिल हुए। लोगों ने दुष्कर्म के आरोपितों को सजा देने का आह्वान करते हुए केंद्र, उत्तर प्रदेश व जम्मू-कश्मीर सरकार के खिलाफ नारेबाजी की।

इससे पहले राहुल गांधी ने गुरुवार रात लगभग सवा नौ बजे ट्वीट कर लोगों से इंसाफ की लड़ाई में शामिल होने की अपील की थी। पूर्व केंद्रीय मंत्री गुलाम नबी आजाद ने कहा कि उन्नाव और कठुआकांड के दुष्कर्म आरोपितों के खिलाफ सख्त कार्रवाई होनी चाहिए।

कांग्रेस के दबाव में कठुआ दुष्कर्म के आरोपितों के खिलाफ मामला दर्ज हुआ, लेकिन भाजपा के मंत्री उन्हें बचाने की कोशिश कर रहे हैं। वहीं, माकन ने कहा कि दुष्कर्म पीडि़ता और उनके परिवार के लोग इंसाफ की गुहार लगा रहे हैं, लेकिन सरकार सो रही है। उसे जगाने के लिए रात 12 बजे मार्च निकाला जा रहा है।

 

विज्ञापन

अन्य ख़बरे

Be the first to comment

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.