Breaking News
prev next

पीएम ने कहा 2022 तक किसानों की आय दोगुनी

नई दिल्ली: उज्‍ज्‍वला और मुद्रा योजना के लाभार्थियों के बाद आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के किसानों से ‘नमो एप’ के जरिए बातचीत की। पीएम मोदी ने कहा कि हमने तय किया है 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करने का लक्ष्य लेकर आगे बढ़ना है। हम इस पर ध्यान दे रहे हैं कि कच्चे माल की लागत कम हो, किसानों को पैदावार का उचित मूल्य मिले औ फसल पैदावार में नुकसान कम हो।

पीएम मोदी ने बताया कि पहले खाद के लिए लंबी-लंबी कतारें हुआ करती थीं, लेकिन अब किसानों को आसानी से खाद मिल रहा है। आज किसानों के लिए 100% नीम कोटिंग वाला यूरिया देश में उपलब्ध है। फसल कटाई के बाद जब किसान का उत्पाद बाजार में पहुंचता है तो उसमें उसे अपनी उपज की सही कीमत मिले, इसके लिए ऑनलाइन प्लेटफार्म e-NAM शुरू किया गया है, ताकि किसानों को अपनी उपज का पूरा पैसा मिल सके और सबसे बड़ी बात कि अब बिचौलिए किसानों का लाभ नहीं मार पाएंगे।

पीएम मोदी ने कहा कि आज देश में न सिर्फ अनाज बल्कि फल, सब्जियों और दूध का भी रिकॉर्ड उत्पादन हो रहा है। देश के किसानों को फसलों की उचित कीमत मिले, इसके लिए इस बार के बजट में सरकार ने एक बड़ा फैसला लिया। सरकार ने तय किया है कि अधिसूचित फसलों के लिए एमएसपी, उनकी लागत का कम से कम डेढ़ गुना घोषित किया जाएगा। उन्‍होंने कहा कि किसानों को फसल में किसी भी तरह का जोखिम न हो, इसके लिए आज फसल बीमा योजना है।

गौरतलब है कि केंद्र सरकार ने किसानों की आय को दोगुना करने के संकल्प को 2022 तक पूरा करने के लिए केंद्रीय बजट में खेती को दिए जाने वाले धन को भी दोगुना कर दिया है। कांग्रेस की यूपीए सरकार ने जहां 2009 से 2014 के दौरान मात्र 1 लाख 21 हजार 82 करोड़ रुपये दिए थे, वहीं पीएम मोदी ने 2014-18 के बीच, 2 लाख 11 हजार 694 करोड़ रुपये दे दिए।

पीएम मोदी ने कुछ दिनों पहले ही मुद्रा योजना के लाभार्थियों से भी बातचीत की थी। इस दौरान उन्होंने कहा था कि मुद्रा योजना से संभावनाओं के नये रास्ते खुले हैं और लोगों को नौकरियां भी मिल रही हैं। इससे दलालों पर की सक्रियता भी खत्‍म हो गई है। इससे पहले पीएम मोदी ने देशभर के उज्ज्वला योजना के लाभार्थियों से बातचीत की थी।

विज्ञापन

अन्य ख़बरे

  • डाटा नहीं देगा, रसोई का आटा
    सत्‍यम् लाइव, 16 सितम्‍बर 2020, दिल्‍ली।। दुनिया भर में किसी भी प्राणी को जीवित रहने के लिये पेट का भरना और यदि पेट ही नहीं भरेगा तो फिर स्वर्ग उसे दे दो उसका इस धरा पर जीवन व्यर्थ सा लगेगा। हाॅ इस बात को स्वीकार […]
  • नालंदा ओपन यूनिवर्सिटी की मान्यता खतरे में-आसिफ
    नालंदा ओपन यूनिवर्सिटी की मान्यता खतरे में, नीतीश सरकार बेपरवाह, क्या नालंदा ओपन यूनिवर्सिटी की मान्यता खतरे में डालने से बिहार शिक्षित बनेगा ? नीतीश बताएं गैर जिम्मेदार अफसरों को सजा के बदले आठ विश्वविद्यालयों का […]
  • हिन्‍दी की सच्‍चाई- हिन्‍दी दिवस पर
    सत्यम् लाइव, 14 सितम्‍बर 2020, दिल्‍ली।। हिन्दी दिवस प्रत्येक वर्ष 14 सितम्बर को मनाया जाता है। वर्ष 1918 में गॉधी जी ने हिन्‍दी साहित्‍य सम्‍मेेेेलन में हिन्दी भाषा को राष्ट्रभाषा बनाने को कहा था। […]
  • दिल्ली में, खुलेंगे जिम और योग सेंटर
    सत्‍यम् लाइव, 14 सितम्‍बर 2020, दिल्‍ली।। दिल्ली सरकार ने जिम और योग सेंटर खोलने की मंजूरी सोमवार से दे दी है। जबकि दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण ने बैठक में साप्‍ताहिक बाजार को 30 सितंबर तक चलाने की मंजूरी भी दी […]
  • कलयुगी गंगाजल है सैनेटाइजर
    अपनी संस्‍कृृ‍ति और सभ्‍यता को पहचानने के लिये पहले भगवान और गंगाजल को गंगा मॉ समझना जरूरी है। सत्‍यम् लाइव, 13 सितम्‍बर 2020, दिल्‍ली।। भारतीय शास्‍त्रों में गंगाजल की महत्‍ता इतनी वयां की गयी है कि मुस्लिम शासक […]
  • किसान ट्रेन से फायदा किसान को होगा?
    सत्‍यम् लाइव, 12 सितम्‍बर 2020, दिल्‍ली।। शुक्रवार सुबह आंध्र प्रदेश के अनंतपुर से चल दिल्‍ली के आदर्श नगर रेलवे स्टेशन पहुंची है इस रेल का नाम किसान रेल है जिस पर 332 टन फल और सब्जियां लाई गईं। 36 घंटों के लम्‍बे […]