Breaking News
prev next

निजीकरण की राह पर ले जाने वाला है नई कैटरिंग पॉलिसी – मेधा पाटेकर

नई दिल्ली । रेलवे की खान पान नीतियों को लेकर समाजसेवी मेधा पाटेकर ने कई सवाल उठाए है। मेधा पाटेकर ने कहा कि रेलवे की नई कैटरिंग पालिसी एक तरह से रेलवे को निजीकरण की राह पर ले जाने वाला है। उन्होंने इस वर्ष से रेल बजट को मुख्य बजट के साथ समायोजित किये जाने पर भी सवाल उठाते हुए कहा किस इस कदम से रेलवे की स्वतंत्रता को समाप्त किया जा रहा है। मेधा पाटेकर ने यह बात आज यहां ‘अखिल भारतीय रेलवे खान-पान लाइसेंसिसीज वेलफेयर एसोसिएशन’ की ओर से आयोजित संवाददाता सम्मेलन में कही। इस मौके पर एसोसिएशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष रविन्द्र गुप्ता भी मौजूद थे।

मेधा पाटेकर ने कहा कि वह स्टेशनों पर खाने पीने का सामान बेचने वाले लाइसेंसी वेंडरों की रोजी रोटी बचाने के साथ-साथ ट्रेनों सफर करने वाले गरीब यात्रियों को सस्ते में खाने पीने का सामान उपलब्ध करना के लिए ‘रेल बचाव, यात्री बचाओं, खानपान आंदोलन’ में ‘हिंद मजदूर यूनियन’ का समर्थन देने का ऐलान किया। मेधा पाटेकर ने रेलवे की नई कैटरिंग पॉलिसी पर भी सवाल उठाए। उन्होंने कहा कि नई नीति से स्टेशनों पर रोजगार पाने वाले एक लाख परिवार का रोजगार खत्म हो जाएगा। उन्होंने कहा कि आईआरसीटीसी को कैटरिंग का पूरा जिम्मा देने का मतलब बड़े प्राइवेट प्लेयर के हाथ में खान-पान का ठेका देना है। उन्होंने कहा कि बडे प्लेयर के आने के बाद यात्रियों को 10 रुपये के खाने का सामान 100/- रुपये में खरीदने की मजबूरी हो जाएगी। रेलवे की नई कैटरिंग पॉलिसी से आम आदमी सफर करेगा। 

मेधा पाटेकरन ने कहा कि नई खान-पान नीति में सुप्रीम कोर्ट के आदेश की भी अवहेलना की जा रही है। उन्होंने कहा कि सभी यात्रियों तक तभी सस्ते में खाना उपलब्ध होगा जब स्टेशनों पर टॉली, खोमचा, लाइसेंसी वेंडरों को खाद्य पदार्थ बेचने की अनुमति मिलेगी। उन्होंने का कि एक साल में जितने लोग विमान में यात्रा करते है उतने लोग रेल से एक दिन में यात्रा करते है।अखिल भारतीय खान-पान वेलफेयर एसोसिएशन के अध्यक्ष रविंद्र गुप्ता ने कहा कि  सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि जब आप रोजगार दे नहीं सकते तो उसे छीनने का अधिकार नहीं है, बावजूद रेलवे ऐसे नियम बना रहा है कि लाइसेंसी वेंडरों का रोजगार खत्म हो जाए। उन्होंने कहा कि लाइसेंसी वेंडरों से कहा जा रहा है कि वे टेंडर तभी कर सकते है जब उनका टर्न ओवर 35 लाख रुपया का होगा, जबकि यह नामुमकिन है। इसका फायदा भी बड़े-बड़े प्लेयर को मिलेगा।⁠⁠⁠⁠

विज्ञापन

अन्य ख़बरे

  • लव जेहाद से जुड़े मामले को लेकर यूपी का बरेली जनपद मंगलवार को गरमाया ।
    सत्‍यम् लाइव, 22 अक्टूबर 2020, बरैली || लव जेहाद से जुड़े मामले को लेकर यूपी का बरेली जनपद मंगलवार को गरमा गया। लड़की की सकुशल बरामदगी व आरोपी पक्ष पर कार्रव ाई की मांग को लेकर भाजपा समेत कई हिन्दू संगठनों ने किला […]
  • लेबर अधिकारियों के इंस्‍पेक्‍शन में दिल्‍ली के शिक्षा मंत्री
    सत्‍यम् लाइव, 21 अक्‍टूबर 2020 दिल्‍ली।। दिल्‍ली के उपमुख्‍यमंत्री एवं शिक्षामंत्री मनीष सिसाैै‍दिया जी ने कल स्‍वयं पुष्‍प विहार के डिस्ट्रिक्‍ट लेबर कार्यालय का सरप्राइज इंस्‍पेक्‍शन किया। साथ ही ट्वीट करके लिखा […]
  • स्‍वस्‍थ जीवन के लिये घातक रसायनिक खाद्य
    सत्‍यम् लाइव, 20 अक्‍टूबर, 2020, दिल्‍ली।। इस कोरोना काल में लोगों को एहसास दिला दिया है कि शुद्ध शाकाहारी, स्वस्थ भोजन करने से अपनी रोग प्रतिरोधक क्षमता को संतुलन करके ऐसे अनेको वायरस से बचा जा सकता है वैसे भी […]
  • श्रीरामवरदायनी माता सती का परीक्षा स्‍थल
    सत्‍यम् लाइव, 17 अक्‍टूबर 2020, दिल्‍ली।। शरदीय नवरात्रि के शुभ अवसर माता सती द्वारा श्रीराम परीक्षा लेेने की कथा आप सबने सुनी होगी आज नवरात्रि के अवसर पर माता के उस स्‍थल का परिचय कराने का पुन: अवसर प्राप्‍त होता […]
  • कलाम को सलाम
    सत्‍यम् लाइव, 15 अक्‍टूबर 2020, दिल्‍ली।। 15 अक्टूबर 1931 को धनुषकोडी गाँव (रामेश्वरम, तमिलनाडु) में एक मध्यमवर्ग मुस्लिम अंसार परिवार में इनका जन्म हुआ उनके पिता जैनुलाब्दीन मछुआरों को नाव किराये पर दिया करते थे। […]
  • ओडिशा-तेलंगाना में भारी बारिश से 15 मरे
    सत्‍यम् लाइव, 14 अक्‍टूबर 2020, दिल्‍ली।। अभी भी बारिश का कहर रूका नहीं है एक तरफ कोरोना को लेकर 900 करोड रूपयेे विज्ञापन पर खर्चा किया जा रहा है तो दूसरी तरफ प्रकृति की विनााश लीला पूरी तरह से प्रारम्‍भ है। अभी […]