Breaking News
prev next

धनु और मीन राशि वाले जरूर पढ़े फिरोजा

दिल्ली: ग्रहों के बुरे प्रभाव को कम करने के लिए या फिर उन्हें मजबूती प्रदान करने के लिए ज्योतिष शास्त्र द्वारा विभिन्न प्रकार के रत्न प्रदान किए गए हैं। यह रत्न हमारे जीवन को सुधारने और यहां तक कि कई रोगों से लड़ने में भी सहायक सिद्ध होते हैं। इनमें नीलम, पन्ना, मूंगा, रूबी, पुखराज आदि कई प्रसिद्ध रत्न हैं। इन रत्नों को लगभग सभी लोग भलीभांति पहचानते हैं और इनके बारे में जानते हैं। ये रत्न असरदार तो होते ही हैं, काफी महंगे भी होते हैं।
इनके अलावा भी कई कई ऐसे रत्न हैं जिनके बारे में लोग नहीं जानते। ऐसे रत्नों को उपरत्न भी कहा जाता है और ये मुख्य रत्नों के मुकाबले काफी सस्ते भी होते हैं लेकिन इनका असर भी मुख्य रत्नों जितना तेज ही होता है। ऐसे रत्नों में ही एक रत्न है फिरोजा, यह रोगों को काटने वाले रत्न के नाम से भी प्रचलित है। इसके अलावा यह रत्न प्रेम संबंधों को सुधारने में भी मुख्य भूमिका निभाता है। फिरोजा रत्न मुख्यत: फिरोजी, गहरा नीला, आसमानी और हरे रंग का सा होता है।

कौन पहन सकता है फिरोजा

ज्योतिष के अनुसार धनु और मीन राशि वालों के लिए फिरोजा सर्वोत्तम है। इन राशि वालों को फिरोजा पहनना काफी लाभदायक है। माना जाता है कि पौष मास में जन्में लोगों को फिरोजा काफी लाभ पहुंचाता है। इस रत्न को पहनने वाला व्यक्ति बीमारी से बचा रहता है। साथ उसे दुश्मन चाहकर भी उसका कुछ नहीं बिगाड़ सकते। कहा जाता है कि अगर आपका किसी अपने से मतभेद हो गया तो उसे फिरोजा भेंट कर दें, जल्द ही उससे रिश्ते सुधर जाएंगे।

 

विज्ञापन

अन्य ख़बरे

  • कलयुगी गंगाजल है सैनेटाइजर
    अपनी संस्‍कृृ‍ति और सभ्‍यता को पहचानने के लिये पहले भगवान और गंगाजल को गंगा मॉ समझना जरूरी है। सत्‍यम् लाइव, 13 सितम्‍बर 2020, दिल्‍ली।। भारतीय शास्‍त्रों में गंगाजल की महत्‍ता इतनी वयां की गयी है कि मुस्लिम शासक […]
  • किसान ट्रेन से फायदा किसान को होगा?
    सत्‍यम् लाइव, 12 सितम्‍बर 2020, दिल्‍ली।। शुक्रवार सुबह आंध्र प्रदेश के अनंतपुर से चल दिल्‍ली के आदर्श नगर रेलवे स्टेशन पहुंची है इस रेल का नाम किसान रेल है जिस पर 332 टन फल और सब्जियां लाई गईं। 36 घंटों के लम्‍बे […]
  • कृषक मेघ की रानी दिल्‍ली.. दिनकर जी
    सत्‍यम् लाइव, 11 सितम्‍बर 2020, दिल्‍ली।। आपदा को अवसर में तब्‍दील कर देने वाले प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी जी की सरकार और किसानों के बीच एक बार फिर से संघर्ष प्रारम्‍भ हो चुका है। अवसरवादी भारत की सरकारेंं कृषि […]
  • स्‍कूल के नियमों पर जटिल प्रश्‍न
    भययुक्‍त शिक्षक, भयमुक्त समाज नहीं बनाता ”वासुधैव कुटुम्‍बकम्” की भावना समाप्‍त करती आज की शिक्षा व्‍यवस्‍था कलयुगी सैनेटाइजर ने युग के गंगाजल का स्‍थान ले रही है। कारण शिक्षा व्‍यवस्‍था भारतीय संस्‍कार […]
  • स्‍कूल और कॉलेज खोलने का ऐलान
    सत्‍यम् लाइव, 9 सितम्‍बर 2020, दिल्‍ली।। यूपी में लॉकडाउन खत्म करने के बाद अनलॉक-4.0 के तहत अब स्कूल-कॉलेज खोलने की तैयारी है। 21 सितंबर से 9वीं से 12वीं कक्षा के छात्र कुछ शर्तों के साथ स्कूल जा सकेंगे। केंद्र […]
  • नेत्रदान पर जागरूक अभियान
    सत्‍यम् लाइव, 8 सितम्‍बर 2020, दिल्‍ली।। उत्तराखंड प्रांत इकाई के संयुक्त तत्वाधान में नेत्र की क्रिया विधि एवं नेत्रदान का महत्व विषय पर एक राष्ट्रीय वेबीनार का आयोजन किया गया।वेबीनार के मुख्य अतिथि सक्षम के […]