Breaking News
prev next

गर्भवती की मौत को सुलझाने के लिए कब्र से निकाला शव

कटिहार : बिहार के कटिहार में दहेज के लिए गर्भवती की हत्या के मामले को उलझे सवाल को सुलझाने के लिए मृतिका गुंजा के शव को कब्र से बाहर निकाला जाएगा. 5 महीने पहले प्रसव पीड़ा के दौरान ससुराल में हुई मौत को विवाहिता के परिजन ने हत्या बताया है. परिवार वालों के मुताबिक दहेज नहीं देने की वजह से पति और ससुराल वालों ने सी हाल में गुंजा को छोड़ दिया और बगैर इलाज के ससुराल में ही गुंजा की मौत हो गई.

कटिहार के डंडखोरा थानाक्षेत्र के बौरनी गांव मे गुंजा और रंजीत ने 2012 में प्रेम विवाह किया था. सब कुछ ठीकठाक था पर रंजीत और उसके परिवार वाले गुंजा के घर वालों से हमेशा दहेज की मांग करते रहते थे. गुंजा के पिता ने दहेज में रुपया न देकर अपनी जमीन ससुराल वालों के नाम लिख दी. लेकिन दहेज लोभी ससुराल वाले को जमीन से दहेज की भूख नहीं मिटी. वो लोग और दहेज की मांग करते रहे.

इसी बीच गुंजा गर्भवती हो गई.गुंजा के इस हाल में भी ससुराल वाले दहेज के लिए प्रताड़ित किया करते थे और उसी प्रताड़ना की वजह से गर्भवती गुंजा का सही इलाज नहीं किया जा रहा था. अंत मे ससुराल में ही गुंजा प्रसव पीड़ा की वजह से मौत के मुंह में समा गई. ससुराल वालों ने गुंजा के शव को पास के बांसबिट्टी में दफना दिया. जैसे ही ये बात गुंजा के घरवालों को पता चली घर में चीख पुकार मच गई. घरवालों ने गुंजा के मृत्यु को दहेज की खातिर हत्या बताया.

परिजनों ने गुंजा के पति समेत ससुराल वालों के खिलाफ हत्या के मामले को और गुंजा को न्याय दिलाने के लिए डंडखोरा थाने में दर्ज करवाया. जहां अब पुलिस 5 महीने बाद दर्ज मामले पर शव को कब्र से निकलने में जुटी हुई है.

गुंजा के मौत हुए कई महीने बीत जाने के बाद दर्ज मामला जब कोर्ट पहुंचा तो कोर्ट ने गुंजा के शव को कब्र से बाहर निकाल पोस्टमार्टम कराने का आदेश स्थानीय पुलिस को दे दिया. कोर्ट के आदेश का पालन करते हुए कटिहार पुलिस दंडाधिकारी के उपस्थिति में मृत गुंजा के शव को जमीन खोद कर कब्र से बाहर निकाला.

कुदरत का करिश्मा यह था कि पांच महीने बाद भी जमीन के अंदर गुंजा के शव में कोई खास परिवर्तन नहीं हुआ. पुलिस अब गुंजा के शव को पोस्टमार्टम के लिए कटिहार सदर अस्पताल ले आई है ताकि गुंजा के हुए मौत की गुत्थी को सुलझाया जा सके और पीड़ित परिवार को इंसाफ मिल सके.हालांकि पुलिस ने आरोपी पक्ष में से एक को गिरफ्तार कर लिया है और बाकी फरार आरोपी ससुराल वालों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस छापेमारी कर रही है

 

 

विज्ञापन

अन्य ख़बरे

  • डाटा नहीं देगा, रसोई का आटा
    सत्‍यम् लाइव, 16 सितम्‍बर 2020, दिल्‍ली।। दुनिया भर में किसी भी प्राणी को जीवित रहने के लिये पेट का भरना और यदि पेट ही नहीं भरेगा तो फिर स्वर्ग उसे दे दो उसका इस धरा पर जीवन व्यर्थ सा लगेगा। हाॅ इस बात को स्वीकार […]
  • नालंदा ओपन यूनिवर्सिटी की मान्यता खतरे में-आसिफ
    नालंदा ओपन यूनिवर्सिटी की मान्यता खतरे में, नीतीश सरकार बेपरवाह, क्या नालंदा ओपन यूनिवर्सिटी की मान्यता खतरे में डालने से बिहार शिक्षित बनेगा ? नीतीश बताएं गैर जिम्मेदार अफसरों को सजा के बदले आठ विश्वविद्यालयों का […]
  • हिन्‍दी की सच्‍चाई- हिन्‍दी दिवस पर
    सत्यम् लाइव, 14 सितम्‍बर 2020, दिल्‍ली।। हिन्दी दिवस प्रत्येक वर्ष 14 सितम्बर को मनाया जाता है। वर्ष 1918 में गॉधी जी ने हिन्‍दी साहित्‍य सम्‍मेेेेलन में हिन्दी भाषा को राष्ट्रभाषा बनाने को कहा था। […]
  • दिल्ली में, खुलेंगे जिम और योग सेंटर
    सत्‍यम् लाइव, 14 सितम्‍बर 2020, दिल्‍ली।। दिल्ली सरकार ने जिम और योग सेंटर खोलने की मंजूरी सोमवार से दे दी है। जबकि दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण ने बैठक में साप्‍ताहिक बाजार को 30 सितंबर तक चलाने की मंजूरी भी दी […]
  • कलयुगी गंगाजल है सैनेटाइजर
    अपनी संस्‍कृृ‍ति और सभ्‍यता को पहचानने के लिये पहले भगवान और गंगाजल को गंगा मॉ समझना जरूरी है। सत्‍यम् लाइव, 13 सितम्‍बर 2020, दिल्‍ली।। भारतीय शास्‍त्रों में गंगाजल की महत्‍ता इतनी वयां की गयी है कि मुस्लिम शासक […]
  • किसान ट्रेन से फायदा किसान को होगा?
    सत्‍यम् लाइव, 12 सितम्‍बर 2020, दिल्‍ली।। शुक्रवार सुबह आंध्र प्रदेश के अनंतपुर से चल दिल्‍ली के आदर्श नगर रेलवे स्टेशन पहुंची है इस रेल का नाम किसान रेल है जिस पर 332 टन फल और सब्जियां लाई गईं। 36 घंटों के लम्‍बे […]