Trending News
prev next

हरियाणा में आम आदमी पार्टी का डोर-टू-डोर कैंपेन की ट्रेनिंग का तीसरा चरण शुरू

Third phase of training of Aam Aadmi Party's door-to-door campaign in Haryana

– दिल्ली में शुक्रवार को गुरुग्राम, फरीदाबाद, करनाल, सिरसा और सोनीपत लोकसभा से आए करीब 250 सक्रिय कार्यकर्ताओं ने हिस्सा लिया

– दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल खुद कार्यकर्ताओं को ट्रेनिंग दे रहे हैं

– डोर-टू-डोर कैंपेन से हमें बहुत तेजी से नये सक्रिय कार्यकर्ता मिल रहे हैं : गोपाल राय

नई दिल्ली। डोर-टू-डोर कैंपेन से हरियाणा में आम आदमी पार्टी के नये सक्रिय कार्यकर्ताओं में तेजी से इजाफा हो रहा है। आम आदमी पार्टी ने हरियाणा में डोर-टू-डोर कैंपेन के लिए सक्रिय कार्यकर्ताओं की ट्रेनिंग का तीसरा चरण 25 जनवरी, 2019, शुक्रवार को दिल्ली में शुरू किया। दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल खुद इन टीमों को ट्रेनिंग दे रहे हैं। दिल्ली में मुख्यमंत्री आवास पर आयोजित ट्रेनिंग सेशन में शुक्रवार को गुरुग्राम, फरीदाबाद, करनाल, सिरसा और सोनीपत लोकसभा से आए करीब 250 सक्रिय कार्यकर्ताओं ने हिस्सा लिया।

इस मौके पर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने नये कार्यकर्ताओं से कहा कि आप सभी का इस आंदोलन में स्वागत है। अगर हरियाणा बदलना है, अगर देश बदलना है तो घर-घर जाकर लोगों को इस आंदोलन से, इस क्रांति से जोड़ना होगा।

केजरीवाल ने कहा कि आम आदमी पार्टी की सरकार बनाने के लिए दिल्ली में लोग, खासकर युवा, घर-घर गये थे। ऐसा ही हरियाणा में भी करना है।

दिल्ली सरकार में कैबिनेट मंत्री और हरियाणा के प्रभारी गोपाल राय ने कहा कि डोर-टू-डोर वही हथियार है जिससे दिल्ली में हमने बीजेपी को 3 सीटों में पर समेट दिया और कांग्रेस तो खाता भी नहीं खोल पाई। अगर आप सब संकल्प ले लेंगे तो हरियाणा में भी हम दिल्ली जैसा करके दिखा देंगे।

इस ट्रेनिंग सेशन के बारे में बताते हुए गोपाल राय ने कहा कि डोर-टू-डोर कैंपेन में हमारी टीमें गांव-गांव, घर-घर जाकर हरियाणा के मौजूदा हालात पर लोगों से चर्चा कर रही हैं। इनमें ऐसी बातें निकलकर सामने आई हैं जो हैरान करने वाली हैं। मसलन, हरियाणा के करीब 80 फीसदी लोगों का मानना है कि शिक्षा और स्वास्थ्य के मामले में हरियाणा सरकार पूरी तरह फेल साबित हुई है। इसके अलावा लोग ये भी कहते हैं कि खट्टर सरकार ने किसानों की समस्याओं की तरफ बिलकुल ध्यान नहीं दिया। महिलाओं के खिलाफ अपराध और बेरोजगारी बहुत तेजी से बढ़ी है।

गोपाल राय बताते हैं कि डोर-टू-डोर कैंपेन के हमें तीन बड़े फायदे मिल रहे हैं। पहला, हरियाणा सरकार की नाकामी की चर्चा जनता के बीच हो रही है। दूसरा, दिल्ली सरकार के कामकाज से जनता रूबरू हो रही है। तीसरा, हमें नये सक्रिय कार्यकर्ता मिल रहे हैं। इन नये सक्रिय कार्यकर्ताओं की समूहों में हम ट्रेनिंग करा रहे हैं। ट्रेनिंग लेने के बाद ये लोग भी बाकी लोगों की तरह इस कैंपेन का हिस्सा बन जाएंगे। इस तरह, डोर-टू-डोर कैंपेन से स्वत: स्फूर्ति से नये लोग आम आदमी पार्टी के साथ जुड़ रहे हैं।

विज्ञापन

http://www.satyamlive.com/advertise-with-us/

अन्य ख़बरे

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*


twenty + 11 =

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Translate »