Breaking News
prev next

बरसाना श्री राधा जन्म महोत्सव पर तैयारियां जोरो शोरो पर !

मथुरा, कन्हैया शर्मा: मथुरा बरसाना श्री राधा जन्म महोत्सव को लेकर प्रशासन ने की अपनी तैयारियां धूमधाम से मनाया जाएगा बरसाना में राधा जन्म महोत्सव संकीर्तन भजन गायन कर श्रद्धालु मनाएंगे राधा जी का जन्म महोत्सव जगह-जगह तैयारियां जोरों पर श्री राधा जन्म महोत्सव को लेकर सर्वप्रथम राधा रानी की प्रिय सखी ललिता जी का अटोर पर्वत स्थित ऊंचे गांव में किया जाएगा भव्य अभिषेक जिसको लेकर तैयारियां पूर्ण रूप से की जा चुकी हैं मध्यान्ह 12:00 बजे दूध दही घी शहद जल से कराया जाएगा ललिता जी का अभिषेक बृज प्रागट्य करता श्री नारायण भट्ट जी की आराध्य ललिता जी का अभिषेक किया जाएगा पीठाधीश्वर गोस्वामी कृष्णनंद भट्ट जी महाराज ने बताया कि ललिता राधा जी की प्रधान सखी है श्री राधा जन्म से पूर्व ललिता जी का अभिषेक किया जाता है जिसकी पूर्णरूपेण तैयारियां की जा चुकी हैं भारी संख्या में श्रद्धालु बरसाना पहुंच चुके हैं जिसका आनंद संकीर्तन भजन द्वारा लिया जा रहा है ललिता मंदिर में अनुराग सखी द्वारा सुबह 9:00 बजे से ढाणी Leela प्रस्तुत की जाएगी श्रद्धालुजन लगाएंगे आनंद मैं डुबकियां लीला का आनंद अभिषेक दर्शन और महा प्रसाद के रूप में प्राप्त करेंगे 16 तारीख की रात्रि में बरसाना के राधा रानी के मंदिर में संकीर्तन भजन करते हुए दर्शन प्राप्त कर पुण्य कमाएंगे हजारों श्रद्धालु बरसाना पहुंच चुके हैं श्री कृष्ण प्राण वल्लभा अलबेली सरकार के जन्म महोत्सव को लेकर बृजवासी एवं श्रद्धालुओं में हर्ष का माहौल छाया हुआ है बरसाना उत्सव दर्शन के लिए श्रद्धालुओं का आगमन शुरू हो चुका है जिसको लेकर प्रशासन द्वारा तैयारियां की जा रही हैं बरसाना में बरखा बहार श्री राधा जन्म महोत्सव 15 तारीख को बरसाना स्थित सरकारी बीज गोदाम परिसर में सांस्कृतिक कार्यक्रम के माध्यम से मनाया जाएगा जिस के मुख्य अतिथि चौधरी लक्ष्मीनारायण होंगे कैबिनेट मंत्री ने बताया जन जन की आराध्य श्री राधा रानी जन्म उत्सव में आने वाले श्रद्धालुओं को किसी प्रकार की असुविधा ना हो इसके लिए पर्याप्त व्यवस्थाएं कि जा रही है सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आनंद लेने के लिए शाम 7:00 बजे से मध्य रात्रि तक कार्यक्रम प्रस्तुत किए जाएंगे जिसमें बाहर से आने वाले कलाकारों द्वारा सांस्कृतिक प्रस्तुति दी जाएगी 15 16 दो दिवसीय कार्यक्रम में बाहर से आने वाले कलाकारों द्वारा भव्य प्रस्तुति दी जानी है जिसको लेकर तैयारियां पूर्ण की जा चुकी हैं

झूमेंगे, नाचेंगे, गाएंगे ललिता सखी का जन्मोत्सव मनाएंगे

-स्वामी हरिदास जी थे ललिता सखी का अवतार

-15 सितंबर को दोपहर 11:55 पर धूमधाम से मनाया जाएगा जन्मोत्सव

बरसाना। श्रीराधा रानी की अष्टसखियों में से ललिता सखी को प्रधान स्थान प्राप्त था। श्रीप्रिया-प्रियतम की एकांतिक विलासमयी लीलाओं की यह साक्षी रही हैं। ललिता जी श्री राधारानी से 27 दिन बड़ी थीं। ललिता जी के माता-पिता महिभानु एवं शारदी है। भैरव नामक गोप के साथ ललिताजी का विवाह हुआ था। ललिताजी का उपनाम अनुराधा भी है। स्वयं भगवान शिव ने भी ललिताजी से सखी भाव की दीक्षा प्राप्त की थी। सखी भाव की उपासना में इनके व्यक्तित्व को आदर्श के रूप में स्वीकार किया जाता है। माना जाता है आज से पांच सौ वर्ष पूर्व ललिता सखी ने स्वामी हरिदास के रूप में अवतार लिया था। श्रील नारायण भट्ट कृत ब्रजोत्सव चंद्रिका अंतर्गत विविध शास्त्रीय प्रमाण पर यह उल्लेख मिलता है।

ललिता जी की आठ प्रधान सखियों के नाम:

रतिकला, घनिष्ठा, कलाप्रि, भद्ररेखिका, चंद्ररेखिका, रत्नप्रभा, सुमुखी, एवं सुभद्रा।

बरसाना से पश्चिम दिशा में दो किलोमीटर दूर इनका गांव ऊंचागांव स्थित है। सखी गिरी पर्वत पर श्री ललिता जी का मंदिर दर्शनीय है। 85 सीढियां चढ़कर भक्त मंदिर परिसर में पहुंचते हैं। ललिताजी श्री राधा को सुख प्रदान कराने वाली प्रमुख सखी व उनकी विविध लीलाओं में सहगामी रही थीं।

ललिता सखी के प्राकट्य को लेकर गांव वासी उत्सव की तैयारियों में जुट गए हैं। मंदिर परिसर में रंगाई-पुताई का कार्य पूरा हो चुका है वहीं मंदिर को रंग-बिरंगी झालर एवं फूलों से सजाया जाएगा। शुक्रवार की रात्रि में भजन कलाकर अपनी प्रस्तुतियों से ललिता जी को रिझाएंगे। मंदिर के महंत श्रील नारायण भट्ट के वंशज कृष्णानंद भट्ट ने बताया कि मंदिर में ललिताजी का जन्म धूमधाम से मनाया जाएगा। अभिषेक के दर्शन 11: 55 पर शुरू होंगे। ललिता जी को 1 से 5 बजे तक पालने में झुलाया जाएगा।

ऊऊंचा गांव में जन्मी राधा ने बताया

यह मेरे लिए गर्व की बात है कि मेरा जन्म ललिता सखी के गांव ऊंचागांव में हुआ और उससे भी कहीं सौभाग्य की बात यह है कि मेरे माता-पिता ने मेरा नाम राधा रखा है। मेरी संगी-सहेलियां मुझे राधा नाम से पुकारती हैं तो मन को सुखद अनुभूति प्राप्त होती है।

ललिता सखी(55)

ललिता मंदिर की सीढ़ियों के नीचे बने घर में ललिता सखी ने बताया कि मेरी शादी इस गांव में होना उनकी परम कृपा से ही संभव हो पाया है। कभी स्वप्न में भी नहीं सोचा था कि मेरा नाम ललिता है और मुझे ससुराल के रूप में इनका गांव मिलेगा। शादी के बाद ससुराल वाले मुझे ललिता सखी के नाम से ही पुकारने लगे।

गुड्डी (20)

हमें गर्व है कि हम ललिता सखी के गांव में पैदा हुई हैं मगर गांव में फैली अव्यवस्थाओं के कारण मन कभी-कभी कुंद हो जाता है।

ब्रजलता (22)

ब्रजलता ने बताया कि वह ललिता सखी को अपनी बड़ी बहन के रूप में मानती है। जब कभी वह उदास होती है तो मंदिर में जाकर उनसे बोलती हूँ तो मन हल्का हो जाता है।

हेमा (32)

ललिता सखी के जन्मोत्सव पर हम सब सज-धजकर मंदिर जाती हैं और अपना पारम्परिक नृत्य करके ललिता जी को रिझाती हैं।

ललिता के गांव में कीचड़ ही कीचड़

एक तरफ ललिता सखी के आगमन पर हजारों की संख्या में श्रद्धालु उनके दर्शनों के लिए आते हैं वहीं दूसरी तरफ ग्राम पंचायत द्वारा सफाई के नाम पर वहां कोई प्रबंध नहीं किये गए हैं। समूचे गांव में गंदगी का अंबार लगा हुआ है। मंदिर की सीढ़ियों के नीचे रास्तों में कीचड़ भरी पड़ी है जिससे लोगों के आवागमन में परेशानी तो होती ही है वहीं बीमारी के फैलने का खतरा भी बना हुआ है। ग्रामवासियों ने ललिता सखी के जन्मोत्सव से पहले शासन एवं प्रशाशन से सफाई की मांग की है।

बरसाना: राधाष्टमी मेला को शुक्रवार को एडीएम प्रशासन ने फाइनल टच देते हुए मेला स्थल का निरीक्षण किया। इस दौरान एडीएम ने कुंडों में स्नान पर प्रतिबंद लगा दिया है।

शुक्रवार को नगर पंचायत कार्यालय में स्थित सभागार कक्ष ने एडीएम प्रशासन आदित्य प्रकाश श्रीवास्तव व एसपी देहात आदित्य कुमार शुक्ला ने राधा जन्मोत्सव की तैयारियों को लेकर फाइनल खाका खींचा। दोनों आलाधिकारियों ने पार्किंग स्थल, बृषभान कुंड, प्रियाकुण्ड, गहवरवन कुंड, राधारानी मन्दिर सहित आदि मेला स्थलों का निरीक्षण किया। इस दौरान एडीएम प्रशासन आदित्य प्रकाश श्रीवास्तव ने तीनों कुंडों पर स्नान को लेकर प्रतिबंद लगा दिया है। वहीं मेला क्षेत्र में भंडारों पर प्रतिबंद तथा पॉलीथिन, सड़े फल व दूषित मिठाई आदि खाद्य साम्रगी जो दूषित हो उस पर भी प्रतिबंद लगा दिया है। इस मौके पर एसडीएम गोवर्धन नागेंद्र कुमार सिंह, सीओ गोवर्धन जगदीश कालीरमन, थाना प्रभारी निरीक्षक सुनील कुमार तोमर, अधिशाषी अधिकारी राजेश चौधरी, चेयरमैन प्रतिनिधि भगवान सिंह, सभासद संजय गोस्वामी एडवोकेट आदि मौजूद थे।

पांच किलोमीटर पैदल चल बरसाना पहुचेंगे श्रद्धालु
बरसाना: बृषभानु दुलारी के जन्मोत्सव की तैयारियों को लेकर शनिवार शाम से ही बरसाना की सीमा सील कर दी जाएगी। रात्रि दस बजे से बड़े वाहनों को सम्बन्धित पार्किंग स्थल पर बैरियर लगाकर रोक दिया जाएगा। इस दौरान कोसी से आने वाले बड़े वाहनों संकेत गांव के पास, छोटे वाहनों को गाजीपुर व राणा की बगीची पर स्थित राधे राधे कालोनी में, छाता से आने वाले बड़े वाहनों को श्रीनगर मोड़ पर, छोटे वाहनों को गैस एजेंसी के पास, कांमा से आने वाले वाहनों को राधा बाग पर, गोवर्धन से आने वाले बड़े वाहनों को क्रेशर के पास तथा छोटे वाहनों को गोवर्धन ड्रेन के समीप रोका जाएगा। इस दौरान प्रशासन ने छाता से करहला रोड होते हुए वाईपास भी बनाया है। इस बार पन्द्रह पार्किंग स्थल व तीस बैरियर मेला क्षेत्र में लगाये गए है

विज्ञापन

कुछ अन्य लोकप्रिय ख़बरे

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*


fifteen + fourteen =

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.