Trending News
prev next

पाक कॉरिडोर के ड्राफ्ट एग्रीमेंट पर चर्चा के लिए टीम भारत भेजेगा पाक

Pak corridor draft agreement
Pak corridor draft agreement

14 मार्च को भारत आएगी पाक की टीम, पाक के विदेश मंत्रालय प्रवक्ता ने दी जानकारी
मोहम्मद फैसल के मुताबिक- करतारपुर कॉरिडोर Pak corridor draft agreement पर चर्चा के लिए 28 मार्च को भारत की टीम इस्लामाबाद आएगी

इस्लामाबाद. तनाव के बावजूद पाकिस्तान भारत के साथ करतारपुर कॉरिडोर पर बातचीत जारी रखना चाहता है। पाक के विदेश विभाग ने मंगलवार को कहा कि कॉरिडोर के समझौते के मसौदे (ड्राफ्ट एग्रीमेंट) पर चर्चा के लिए 14 मार्च को एक टीम भारत आएगी। 14 फरवरी को पुलवामा हमले और 26 फरवरी को भारत की एयर स्ट्राइक के बाद दोनों देशों के रिश्तों में आए तनाव के बीच इसे हालात सामान्य बनाने वाले कदम के तौर पर देखा जा रहा है।

नवंबर में भारत-पाक ने कॉरिडोर का किया था शिलान्यास
कॉरिडोर बनने के बाद सिख तीर्थयात्री बिना वीजा लिए पाक स्थित करतारपुर गुरुद्वारा जा सकेंगे। बीते साल नवंबर में भारत और पाकिस्तान ने अपनी-अपनी तरफ बनने वाले कॉरिडोर की आधारशिला किया था। 28 नवंबर 2016 को पाक के कार्यक्रम में भारत के दो केंद्रीय मंत्री और पंजाब के मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू शामिल हुए थे।

पाक के विदेश विभाग के प्रवक्ता मोहम्मद फैसल ने भारत के कार्यवाहक उच्चायुक्त गौरव अहलुवालिया को बुलाकर टीम के दौरे की जानकारी दी। इस दौरे के मद्देनजर भारत में पाक के उच्चायुक्त सोहैल महमूद जल्द दिल्ली लौटेंगे।

यह भी देखे: पेरिस में बिल्ली को मिलेगी मालिक की 1385 करोड़ रु की संपत्ति, दुनिया की सबसे अमीर कैट बन जाएगी

फैसल के मुताबिक- पाकिस्तान का प्रतिनिधिमंडल 14 मार्च 2019 को भारत जाएगा। इसका बाद भारत का डेलिगेशन 28 मार्च को इस्लामाबाद आएगा। इसमें करतारपुर के ड्राफ्ट एग्रीमेंट पर चर्चा होगी। फैसल ने यह भी कहा कि पाक हर हफ्ते मिलिट्री ऑपरेशंस पर डायरेक्टोरेट लेवल पर बातचीत के लिए प्रतिबद्ध है।

पाकिस्तान में मंगलवार को जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर के भाई और बेटे समेत 44 आतंकियों को हिरासत में लिया। मसूद अजहर का भाई अब्दुल असगर पुलवामा हमले में आरोपी है। पाक सरकार ने आतंकी निरोध एक्ट-1997 के तहत मुंबई हमले के आरोपी आतंकी हाफिज सईद के संगठनों जमात उद दावा और फलाह-ए-इंसानियत पर प्रतिबंध लगा दिया।

करतारपुर साहिब पाक में रावी नदी के पार स्थित है। इसे 1522 में बनाया गया था। गुरदासपुर स्थित डेरा बाबा नानक से इसकी दूरी महज 4 किमी है। माना जाता है कि जिस जगह करतारपुर साहिब बनाया गया वहां गुरु नानक देव का निधन हुआ था।

विज्ञापन

अन्य ख़बरे

  • प्रगति ने जीता ईवा इंडिया दिल्ली 2019 का खिताब
    सत्‍यम् लाइव, दिल्‍ली (18th October 2019 ): भारत की सबसे बड़ी सौंदर्य प्रतियोगिता ईवा इंडिया इस बार फिर से खूबसूरत लड़कियों को अपनी काबिलियत दिखने का मौका दे रही है | ईवा इंडिया का यह तीसरा साल है, यह सौंदर्य […]
  • मुकुंदपुर में हार्डवेयर कारोबारी पर हमले में तीन गिरफ्तारिया …
    सत्‍यम् लाइव, दिल्ली || मुकंदपुर इलाके में सोमवार देर रात हार्डवेयर कारोबारी फतेह सिंह उर्फ सोनू सिसोदिया पर जानलेवा हमले में तीन हमलावरों को गिरफ्तार किया गया है उनकी पहचान मुकेश बोना, राहुल लक्कड़ व विक्की के रूप […]
  • भारतीय पुनर्वास परिषद के संयुक्त प्रयास से सियारी सतत शिक्षा पुनर्वास कार्यक्रम का …
    सत्यम लाइव, काशीपुर: आज दिनांक 7:10 2019 को उत्तराखंड ओपन यूनिवर्सिटी हल्द्वानी में भारतीय पुनर्वास परिषद नई दिल्ली के संयुक्त प्रयास से सियारी सतत शिक्षा पुनर्वास कार्यक्रम का समापन किया गया जिसमें विशेष शिक्षा से […]
  • नवदुर्गा या नव आयुर्वेद
    आयुर्वेद विश्व की प्राचीनतम चिकित्सा प्रणालियों में से एक है। यह विज्ञान, कला और दर्शन का मिश्रण है। ‘आयुर्वेद’ नाम का अर्थ है, ‘जीवन का ज्ञान’ और यही संक्षेप में आयुर्वेद का सार है।हिताहितं सुखं […]
  • घरेलू भोज्‍य, दो मिनट में तैयार
    सत्‍यम् लाइव, कानपुर: भारतीय संस्‍कृृ‍ति की ”अतिथि देवोभव” जैसी परम्‍परा अब समाप्‍त सी होती जा रही है। ये कहने की आवश्‍यकता नहीं है कि पूूूरेे विश्‍व में भारत ही एक मात्र ऐसा देश है जो जहाॅॅ की नारी को […]
  • पहली बार सुभाष चन्‍द्रबोस ने कहा था राष्‍ट्रपिता
    सत्‍यम् लाइव, दिल्‍ली: मोहनदास करमचन्द गांधी  (2 अक्‍टूबर 1889- 30 जनवरी 1948) भारतीय स्‍वातंत्ररता आन्‍दोलन के एक प्रमुख राजनैतिक एवं आध्यात्मिक नेता थे। वे सत्‍याग्रह (सविनय अवज्ञा) के प्रतिकार के अग्रणी […]
  • न भूतो न भविष्‍यति ….. सुनील शुक्‍ल
    सत्‍यम् लाइव, दिल्‍ली: 2 अक्‍टूूूूबर को भारत में दो महान पुरूष ने जन्‍म लिया है एक थे महात्‍मा गॉधी (2 अक्‍टूबर 1869 – 30 जनवरी 1949) तथा दूूूसरे न भूतो न भविष्‍यति भारत के द्वितीय प्रधानमंंत्री लालबहादुर […]

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*


4 × 3 =

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.