Breaking News
prev next

पापा कहते हैं बड़ा नाम करेगा, बेटा हमारा ऐसा काम करेगा, मगर ये तो कोई न जाने उसकी मंजिल है कहां…

नई दिल्ली: कुछ लोग छुपे रहते हैं अपनी तनहा ज़िन्दगियों में अपनी अपनी छोटी बड़ी लड़ाइयाँ लड़ते हुए वोह ढिंढोरा नहीं पीटते,पत्रकार नहीं जानते उनके घर का पता लेकिन वो हमारे ही पड़ोस में हमारे ही मोहल्ले में रहते है।हम खुद उनको नहीं जानते क्यूंकि अपने आप की खोयी इस दुनिया में हम दूसरा बनके नहीं सोच पाते.लेकिन इन लोगों के साथ एक बड़ी समस्या है की ये लोग फिर भी सपने देखना नहीं छोड़ते।शायद ,मेरा सफर आज उस हीरो को मिलके खत्म हुआ,मै किसी अभिनेता से मिलके नहीं आया हूँ.वो हीरो है मेरा शायद आप उसके पास से गुज़र भी जायेंगे तो शायद आप पलट के भी ना देखें ..ऐसे हज़ारो हज़ारो लोग जो भीड़ में गुमनाम घूमते हैं उनमे से न जाने कितने हीरो है हमारे.कहाँ से शुरू करूँ वो सफर शायद खबरों में रहने वाले अलीगढ से या उस घर से जहाँ उस नन्हे से बच्चे ने बचपन में अपने माँ बाप को खो दिए या जहाँ उस बच्चे ने अपना सब कुछ खो दिया सिर्फ अपना सफर जारी रखने के लिए कौन था ये लड़का कौनसी बड़ी बात थी हजारों सपने टूटते तो है रोज़ या मै शुरू करू यह कहानी सोनीपत के आंबेडकर पार्क से जहाँ एक लड़का थका हुआ बैठा था.400 km दूर अपने घर से भाग के आया हुआ लड़का जिसकी जेब में सिर्फ एक बड़ा नोट था, या उस सुबह से, उस पार्क से शुरू करूँ यह कहानी जहाँ ये लड़का गीतकार बनने का अभ्यास कर रहा था क्यूंकि वह उस बड़े शहर में अपने लिए जगह बना रहा है जहाँ वो अपने लिए किसी जगह की कल्पना नहीं कर सकता था.ज़िन्दगी को बदलने वाले लम्हे कब किस भेस में आ जाये पता नहीं चलता.पुरानी कहावत है कि जो अपनी रूचि का काम करता है सही मायने में वह अपने काम को करता नहीं बल्कि उसे जीता है.ऐसा न होने पर व्यक्ति अपने काम को ढोता है.समाज ने उसे उम्मीदों को पालना सिखाया एक सपना था जो बबलू को जागने नहीं देता था सोने भी नहीं देता था उससे गीतकार बनना था.लेकिन जब तक इम्तेहान का ग्रहण ना लगे सूरज का चमकना कारगर नहीं लगता.माँ को खोने के बाद अब उसका असली खून उसका परिवार इस छोटे से लड़के खिलाफ हो गया.उनको बबलू का सपना अब मज़ाक लगता था.उसे पता नहीं था की घर छोड़के भागने के बाद वो कहाँ जायेगा.उसको पता नहीं था की वो कहाँ जायेगा.पहले वो अलीगढ से बनारस गया फिर सोनीपत भाग आया.लोगों ने कहां की किसी लड़की के साथ भाग गया होगा.कमाल के होते हैं ये लोग भी ,आप हम रोज़ उनके सामने एक दीवार चुन देते हैं और वो हर बार उनको फांद के भाग जातें हैं.भागना तो आसान था लेकिन अपने सपने को जीना शायद मुश्किल था.न रहने का ठिकाना ना मदद की कोई आस।आज भी जी रहा है बबलू अपने सपने के साथ, बीच मे कई लोगों ने हाथ भी थामा लेकिन शायद इस समाज में अभी उसे कुछ और दीवार फांदने है,शायद फिर भागना है।

प्रशांत राय

विज्ञापन

कुछ अन्य लोकप्रिय ख़बरे

  • यह लड़ाई है अच्छाई और बुराई की
    उच्चतम न्यायालय ने 9 जुलाई 2018 के अपने ताजा फैसले में 16 दिसंबर 2012 के निर्भया कांड के दोषियों की फाँसी की सजा को बरकरार रखते हुए उसे उम्र कैद में बदलने की उनकी अपील ठुकरा दी है। दिल्ली का निर्भया कांड देश का वो […]
  • छोटा हरिद्वार बना मौत के सौदागरों का अड्डा “मर्डर ओर लूटपाट”
    गाज़ियाबाद: यह मामला गाज़ियाबाद स्थित मुरादनगर गंगनहर का है जहा एक छोटे से मंदिर का निर्माण कर उसे “छोटा हरिद्वार” का नाम दिया गया है | और जिस इस नहर के आसपास काफी पर्यटन स्थल भी बन गए है | और यहाँ […]
  • सिर्फ 1 कागज से 2 मिनट में चेक करें पेट्रोल शुद्ध है या मिलावटी
    दिल्ली : जिस पेट्रोल/डीजल को आप गाड़ी में डलवा रहे हैं, वो शुद्ध है या नहीं इसकी जांच आप मिनटों में कर सकते हैं। आपको सिर्फ फिल्टर पेपर पर फ्यूल की दो बूंदे डालना होंगी। डिलेवरी नोजल के मुंह को साफ करें। नोजल से […]
  • एक अच्छा भाषण कैसे लिखें और बोलें..
    बुनियादी बातें अपने विषय का चयन: एक अच्छा भाषण उसके संदेश पर आधारित है। संदेश अवसरानुसार भाषण के साथ मेल होना चाहिए। यह दर्शकों के हित को ध्यान में रखते हुए, उनके समझ के अनुसार, अवसर के मिज़ाज के अनुसार, और सबसे […]
  • भारतीय रेलवे खान पान लाइसेंसीज बेरोजगारी की कगार पर
    दिल्ली: अखिल भारतीय रेलवे खान पान लाइसेंसीज वेलफ़ेयर एसोशियसन का एक प्रतिनिधिमंडल अध्यक्ष रवींद्र गुप्ता के नेतृत्त्व में 27 जून 2018 को श्री विजय सांपला जी, सामाजिक अधिकारिता राज्य मंत्री भारत सरकार से मिला । श्री […]
  • अच्छाई को जीने के लिये तैयारी चाहिए
    दिल्ली (ललित गर्ग): अल्बर्ट आइंस्टाइन ने कहा था कि दुनिया एक बेहद खतरनाक जगह है। उन लोगों की वजह से नहीं, जो बुरा करते हैं, बल्कि लोगों के कारण जो कुछ नहीं करते।’ अब तो इंसान ही नहीं, बल्कि जानवर भी बदल रहे हैं, […]
  • प्रियंका गोवा पहुंचे बॉयफ्रेंड निक के साथ
    नई दिल्ली: बॉलीवुड एक्ट्रेस से इंटरनेशनल आइकॉन बनीं प्रियंका चोपड़ा इन दिनों गोवा में हैं। वे हाल ही में अमेरिका से लौटी हैं, मगर वे अकेली नहीं आईं, बल्कि अपने कथित बॉयफ्रेंड और अमेरिकी सिंगर निक जोनास के साथ आई […]

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*


10 − 3 =

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.