Breaking News
prev next

अमित शाह ने दिल्ली बीजेपी नेताओं को सुनाई डांट फटकार

नई दिल्ली: समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी का गठबंधन बीजेपी के लिए खतरनाक है। बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने भी इस बात को माना है। अमित शाह ने स्वीकार करते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश में अगर हमें किसी से खतरा है तो वह है सपा-बसपा की एकता से। अमित शाह ने यह बात एक न्यूज चैनल में कही।

वहीं दिल्ली के लिए 2019 लोकसभा चुनाव के बाबत अमित शाह ने गुरुवार (21 जून) को दिल्ली बीजेपी को दुरुस्त किया। उन्होंने गुरुवार को आठ घंटों तक मैराथन मीटिंग करते हुए कई नेताओं को जमकर फटकार लगाई। अमित शाह ने ऐसे सभी नेताओं को तत्काल अपने व्यवहार में बदलाव लाने को कहा जो गुटबाजी में लिप्त रहते हैं। उन्होंने सचेत किया कि तत्काल अपने व्यवहार में बदलाव नहीं करते हैं तो पार्टी जल्द ही उन पर कड़ी कार्रवाई कर सकती है। इतना नहीं उन्होंने 2019 को लेकर सभी नेताओं से उनका प्लान भी मांगा। लेकिन ज्यादातर नेताओं के पास चलताऊं प्लान ही थे।

गोपनीयता के शर्त पर एक नेता ने बताया कि किसी भी प्लान से अमित शाह बहुत खुश नजर नहीं आए। इसके बाद उन्होंने अपनी तरफ से बताया कि पिछले चुनावों में बीजेपी को अनुसूचित जाति व अन्य पिछड़ी जातियों से बहुत वोट मिले थे। केंद्र सरकार भी उनका काफी खयाल रख रही है। ऐसे में दिल्ली बीजेपी नेताओं को भी चाहिए कि वह निचली जातियों का खास खयाल रखें। इसके अलावा भाजपा प्रमुख अमित शाह ने सोशल मीडिया पर सक्रिय पार्टी की दिल्ली इकाई के कार्यकर्ताओं और समर्थकों को लोगों के बीच विश्वसनीयता खोने से बचने के लिए फर्जी सामग्री पोस्ट करने की ‘गलती’ ना करने की सलाह दी।

सूत्रों ने बताया कि भाजपा के कार्यकर्ताओं और समर्थकों समेत ‘सोशल मीडिया योद्धाओं’ को दिए संबोधन में शाह ने उनसे मोदी सरकार की चार साल की उपलब्धियों को रेखांकित करने के लिए कहा। बैठक में शामिल एक व्यक्ति ने गोपनीयता की शर्त पर कहा, ‘पार्टी अध्यक्ष ने हमसे ट्विटर, फेसबुक और अन्य सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर फर्जी तस्वीरें, डेटा और संदेश पोस्ट करने की गलती करने से बचने के लिए कहा। उन्होंने कहा कि इससे लोगों के सामने हमारी विश्वसनीयता खतरे में पड़ती है।’ शाह ने एनडीएमसी कन्वेंशन सेंटर में पार्टी के करीब 300 कार्यकर्ताओं और समर्थकों से मुलाकात की जिनके सोशल मीडिया पर 10,000 से अधिक फॉलोअर्स हैं।

विज्ञापन

कुछ अन्य लोकप्रिय ख़बरे

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*


seven − 2 =

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.